पटना: पथ निर्माण मंत्री ने अधिकारियों से बैठक कर की निर्माणाधीन पुलों की समीक्षा

Smart News Team, Last updated: 09/12/2020 10:06 PM IST
  • राजधानी में चल रहे निर्माण कार्यों का जायजा लेने के लिए पथ निर्माण मंत्री ने बैठक की और काम में तेजी लाने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने अधिकारियों को समय-समय पर कार्य की जांच करने के निर्देश भी दिए.
पटना में निर्माणाधीन पुलों के काम में तेजी लाने के निर्देश दिए गए हैं 

पटना. बिहार राज्य पुल निर्माण निगम की देखरेख में बन रहे निर्माणाधीन पुलों की पथ निर्माण मंत्री मंगल पांडेय की ओर से समीक्षा की गई. उन्होंने पटना के आर ब्लॉक से जीपीओ के बीच बन रहे फ्लाईओवर को अगले साल मार्च महीने में तक हर हाल में पूरा करने के निर्देश जारी किए हैं. समीक्षा के दौरान उन्होंने कारगिल चौक से पीएमसीएच के रास्ते एनआईटी मोड़ तक बनने वाले फ्लाईओवर का निर्माण कार्य शीघ्र शुरू करने के भी निर्देश दिए.

उल्लेखनीय है कि पुल निर्माण निगम द्वारा 2005-06 से अब तक 2272 परियोजनाओं पर काम किया गया है, जिसकी लागत 14605 करोड़ रुपए है. मुख्यमंत्री सेतु निर्माण योजना के अधीन 1147 पुल हैं, जिसकी लागत 2677 करोड़ रुपए हैं. तेरह बड़े पुल, मेडिकल कॉलेज, राजगीर कन्वेंशन सेंटर व 29 कर्पूरी छात्रावास का निर्माण कराया गया है.

पटना: भाजपा महिला विधायक से फिर मांगी गई 20 लाख रंगदारी, पुलिस ने शुरु की जांच

समीक्षा के दौरान पथ निर्माण मंत्री ने बताया कि राजधानी में 11 मेगा पुल परियोजनाओं के अतिरिक्त 166 अन्य पुल व कर्पूरी छात्रावास का निर्माण कराया जा रहा है. इसके अलावा निगम के पास 61 आरओबी व 20 बाजार समितियों के जीर्णोद्धार का काम व छह रोपवे का निर्माण कार्य भी है. समीक्षा बैठक में पथ निर्माण विभाग के अपर मुख्य सचिव अमृत लाल मीणा, निगम के अध्यक्ष जितेंद्र श्रीवास्तव, अभियंता प्रमुख उमेश कुमार, निगम के प्रबंध निदेशक सुरेंद्र यादव, परामर्शी रवींद्र नाथ राय, उप मुख्य अभियंता शाकिर अली व सुनील कुमार आदि मौजूद रहे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें