पटना विवि की डिग्री में अब लगेगी स्टूडेंट्स की तस्वीर, फर्जीवाड़े की आशंका होगी

Smart News Team, Last updated: Mon, 11th Jan 2021, 6:07 PM IST
  • डिग्री में फर्जीवाड़े को रोकने के लिए पटना विवि प्रशासन की उपाय करते हुए डिग्री के फार्मेट में बदलाव किए गए हैं. विवि के सुरक्षा उपायों से  फर्जी डिग्री तैयार करने की संभावना खत्म हो जाएगी.
पटना विश्वविद्यालय (फाइल फोटो)

पटना. पटना विश्वविद्यालय की ओर से डिग्री में फर्जीवाड़े को रोकने के लिए सुरक्षा उपाय किए गए हैं. जिसके तहत विश्वविद्यालय की ओर से अपने सिस्टम को पूरी तरह दुरुस्त किया जा रहा है. इसके मद्देनजर अब अगले सत्र से पटना विश्वविद्यालय से स्नातक, पीजी सहित सभी कोर्स पास करने वाले स्टूडेंट्स की तस्वीर डिग्री पर होगी. इसके साथ ही डिग्री पर कई गोपनीय सुरक्षा कोड भी लगे होंगे. इसकी वजह से फर्जी डिग्री तैयार करना और डिग्री से छेड़छाड़ करना मुश्किल हो जाएगा. 

गौर हो कि डिग्री में फर्जीवाड़े संबंधी कई मामलों में शिकायतें सामने आ रही थीं. जिस वजह से डिग्री की सुरक्षा को पुख्ता करने के लिए पटना यूनिवर्सिटी प्रशासन ने डिग्री को सुरक्षित करने के लिए सुरक्षा के कई उपाय करते हुए डिग्री फार्मेट में बदलाव किए हैं. छात्र कल्याण संकाय डीन प्रो. एनके झा ने बताया कि एकेडमिक कौंसिल के सदस्यों की ओर से डिग्री में बदलाव की स्वीकृति दे दी गई है. उन्होंने बताया कि सुरक्षा के मद्देनजर डिग्री पर गोपनीय सुरक्षा कोड के साथ नंबर अंकित होंगे और वाटरमार्क इंबॉस के साथ डिग्री फॉर्मेट भी बदला जा रहा है.

गुरु गोविंद सिंह जयंती पर रेलवे ने पटना साहिब स्टेशन पर बढ़ाए ट्रेनों के स्टोपेज

इस संबंध में जानकारी देते हुए कुलपति प्रो. गिरीश कुमार चौधरी ने बताया कि कई दूसरे विश्वविद्यालयों की डिग्री फर्जीवाड़े की शिकायतें मिलती रहती हैं. पटना विवि की ओर से इसे रोकने के लिए पूरी तैयारी कर ली गई है. डिग्री में किसी प्रकार की गड़बड़ी की संभावना को खत्म कर सुरक्षा को बढ़ाया जा रहा है. डुप्लीकेसी रोकने के लिए संबंधित स्टूडेंट्स के फोटोग्राफ भी डिग्री पर लगााए जाएंगे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें