परमात्मा के श्री चरणों का चिंतन ही मानव कल्याण का सहज उपाय: शुकदेवजी महाराज

Smart News Team, Last updated: Tue, 12th Jan 2021, 4:35 PM IST
  • कायमनगर महावीर स्थान मटियारा कुटी यज्ञ स्थल में 8 से 14 जनवरी तक सात दिवसीय श्रीभागवत ज्ञान यज्ञ का आयोजन किया जा रहा है. जिसमें श्री लक्ष्मी प्रपन्न जीयर स्वामी महाराज और शुकदेव महाराज की ओर से प्रवचन किए गए.
पटना जंक्शन (फ़ाइल फ़ोटो)

पटना. श्री गोदारंगनाथ विवाह महोत्सव के पावन अवसर पर कायमनगर महावीर स्थान मटियारा कुटी यज्ञ स्थल में 8 से 14 जनवरी तक श्रीभागवत ज्ञान यज्ञ करवाया जा रहा है. यज्ञ के दौरान प्रवचन करते हुए श्री लक्ष्मी प्रपन्न जीयर स्वामी महाराज ने कहा कि मानव कल्याण का सहज उपाय प्रभु का सिमरन ही है. श्री शुकदेव महाराज ने राजा परीक्षित को मानव कल्याण के लिए सबसे सहज और सरल उपाय परमात्मा के श्रीचरणों का चिन्तन ही बताया. उन्होंने कहा कि हमें प्रभु का ध्यान और सिमरन निरंतर करते रहना चाहिए. शास्त्र में बताया गया है कि दान, तप और ध्यान आत्मा के उद्धार और कल्याण का प्रमुख साधन है इसलिए इन्सान को अपनी मृत्यु को याद रखते हुए बचपन, जवानी और बुढ़ापे में प्रभु का ध्यान कर उनके गुणों का हर क्षण चिंतन करना चाहिए.

प्रवचन करते हुए शुकदेव महाराज ने कहा कि शास्त्रों में कहा गया है कि साधक को संकट आने पर मृत्यु निकट आने पर घबराना नहीं चाहिए बल्कि प्रभु के नाम का जप करते हुए शेष जीवन को बिताए और स्मरण करें. स्वामी जी ने इस गूढ़ रहस्य को समझाते हुए बताया कि चतुर्भुज का मतलब चार भुजा वाले स्वरूप जिसमें शंख, चक्र, गदा, पद्म स्वरूप वाले प्रभु को अपने दिल दिमाग में बिठाकर जप,तप, ध्यान और पूजन करें. यही मानव जीवन के कल्याण का सबसे सुगम उपाय है.

बिहार बोर्ड BSEB ने जारी किए मैट्रिक एग्जाम 2021 के एडमिट कार्ड, ऐसे करें डाउनलोड

स्वामी जी के मीडिया प्रभारी अखिलेश बाबा ने कहा कि यज्ञ स्थल पर अद्भुत सा नजारा लग रहा है. यहां पर दूर दूर से आने वाले श्रद्धालुओं के लिए रहने और खाने का बहुत अच्छा प्रबंध किया गया है. सारे गांव के लोग अतिथियों का स्वागत करने में लगे हैं. मौके पर प्रभाकर तिवारी, अमित तिवारी, शशिकांत त्रिपाठी, प्रियरंजन पांडेय समेत सैंकड़ो श्रद्धालु मौजूद थे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें