पटना में सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट के नियम तोड़ने वालों को होगा जुर्माना

Smart News Team, Last updated: Mon, 4th Jan 2021, 3:59 PM IST
  • राजधानी में सफाई व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए निगम की ओर से योजना बना ली गई है. स्वच्छता रैंकिंग में सुधार के लिए बल्क वेस्ट जेनरेटर रेगुलेशन 2020 लागू किया जाएगा.  इसकी उल्लघंना करने वालों पर कार्रवाई की जाएगी.
पटना नगर निगम (फाइल फोटो)

पटना. निगम ने सफाई व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए कमर कस ली है. राजधानी के हर घर और सड़क से कूड़ा उठाने के लिए योजना बना ली गई है. नगर निगम की ओर से बल्क वेस्ट जेनरेटर रेगुलेशन 2020 लागू किया जाएगा. सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट के तहत अब नियमों को तोड़ने वाले लोगों को जुर्माना होगा. इतना ही नहीं यदि कहीं सॉलिड वेस्ट जलाने का मामला सामने आता है तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

निगम की ओर से सॉलिड वेस्ट जलाने का मामला सामने आने पर संबंधित संस्थान और व्यक्ति पर जुर्माना किया जाएगा. व्यवसायिक संगठन और लोगों की ओर से अतिरिक्त कूड़ा उठाने के लिए नगर निगम की टीम को सूचना दे सकते हैं. कूड़े को जलाने पर प्रदूषण फैलता है और अन्य खतरे भी होते हैं. निगम की ओर से औचक निरीक्षण कर सही ढंग से कूड़े के निस्तारण की जांच की जाएगी. हर महीने में एक बार जांच अभियान चलाया जाया करेगा. सही ढंग से कूड़े का निस्तारण ना होने पर जुर्माना किया जाएगा. नगर निगम की अनुमति के बिना किसी भी 100 से अधिक लोगों के इकट्ठा होने पर समारोह के आयोजक जुर्माना किया जाएगा.

पटना: ट्रिपलिंग कर रहे युवकों को पुलिस ने पिटा वीडियो वायरल

समारोह में 100 से अधिक लोगों को आमंत्रण देने के लिए अनुमति लेना जरूरी है और निगम को इसकी जानकारी देनी होगी ताकि कचरे को उठाने का प्रबंध किया जा सके. घरों में लोगों को गीला और सूखा कचरा अलग करके निगम को उठाव में सहयोग करना होगा. यदि गीला और सूखा कचरा अलग नहीं किया गया हो तो 200 रुपए जुर्माना होगा. इसके अलावा प्रदर्शनियों, मेलों और क्लबों के आयोजनों के दौरान अलग-अलग जुर्माने की राशि तय की गई है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें