World AIDS Day: बिहार में कोरोना काल के दौरान मिले 3556 HIV संक्रमित

Smart News Team, Last updated: Mon, 30th Nov 2020, 10:53 PM IST
बिहार में अप्रैल से अक्टूबर के कोरोना काल के दौरान राज्य भर में 3556 एचआईवी संक्रमित मरीज मिले हैं, इसमें 200 बच्चे भी शामिल है. राज्य के एआरटी सेंटरों में बुनियादी सुविधाएं भी नहीं है.
बिहार में अप्रैल से लेकर अक्टूबर तक 3556 एचआईवी संक्रमित मरीज मिले हैं.

पटना. बिहार में कोरोना संक्रमण के दौरान 3556 एचआईवी संक्रमित की पहचान की गई है. गौरतलब है कि इसमें 200 बच्चे भी शामिल है. यह आंकड़ा अप्रैल से अक्टूबर 2020 तक का है. आपको बता दें कि विश्व एड्स दिवस पर मंगलवार को बिहार में 7 नए एआरटी सेंटर भी शुरू होंगे.

बिहार में राजधानी पटना सहित 20 एआरटी सेंटर हैं. लेकिन इन सेंटरों पर बुनियादी सुविधाएं भी नहीं हैं. इसके अलावा एचआईवी संक्रमितों को आयुष्मान योजना का लाभ भी नहीं मिल पा रहा है. दरभंगा सेंटर के अलावा कहीं भी महिला चिकित्सक तक नहीं है. ऐसे में एचआईवी संक्रमित महिलाओं के लिए यह सबसे ज्यादा परेशानी देने वाला है.

मार्च-अप्रैल 2021 तक कोरोना वैक्सीन मिलने की उम्मीद: केंद्रीय मंत्री अश्वनि चौबे

बिहार नेटवर्क फॉर पीपल लिविंग विद एचआईवी एड्स सोसाइटी के अध्यक्ष ज्ञान रंजन ने बताया कि बिहार में एचआईवी मरीजों की संख्या 1 लाख से अधिक है. पटना में सबसे ज्यादा 4 हज़ार से अधिक एचआईवी संक्रमित हैं. वर्तमान में राज्य में 54 हज़ार मरीज दवा ले रहे हैं.दूसरे राज्यों में एचआईवी संक्रमित मरीजों को आयुष्मान योजना का लाभ मिल रहा है लेकिन बिहार के एचआईवी मरीजों को यह सुविधा नहीं दी जा रही है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें