पटना: दीपावली पर मिट्टी के दीयों की चमक रहेगी फीकी, कोरोना के चलते आर्डर नहीं

Smart News Team, Last updated: 10/11/2020 12:29 PM IST
इस बार दीपावली पर कोरोना का असर दीया बनाने वालों कुम्हारों पर भी पड़ा है. इस बार आर्डर ना मिलने के चलते उनकी दिवाली फीकी रहेगी. वह इस बार कुल्हड़ बना रहे हैं. जो कुल्हड़ वाली चाय होती है, उसके लिए वह कुल्हड़ बना रहे हैं क्योंकि इस बार उनके पास दीये बनाने के आर्डर ही नहीं हैं. घाट के पास एक परिवार है जो दिवाली पर बरसों से दीया बनाने का काम करता आ रहा है. इनका कहना है कि ऐसा पहली बार हुआ है कि इस बार जो उन्होंने दुर्गा पूजा के लिए जो दीये बनाए थे वह अभी तक नहीं बिके हैं.                                                       परिवार के मनोज का कहना है कि हर साल यह 40 से 50 हजार दिए बनाते थे. इस बार दस हजार दीये भी नहीं बिके. कोरोना के कारण लॉकडाउन लगा हुआ है. इस बार एक भी दुकानदार का आर्डर नहीं मिला. मनोज की मां लक्ष्मी ने बताया कि इस बार कोरोना के कारण काफी दिक्कत आई है. हर बार 50 हजार के करीब दीयों का आर्डर आ जाता था लेकिन इस बार कुछ नहीं आया. सरकार से भी कोई मदद नहीं मिली.                                                                                     जोगिंदर पंडित जो करीब 25-30 सालों से इस काम में हैं. इस बार त्योहारी सीजन में रबड़ी खाने वाली प्याली बना रहे हैं. दीया बनाना इस बार बिल्कुल ही ठप है क्योंकि इस बार कोई आर्डर ही नहीं है. दीये बनाने के लिए मिट्टी खरीदकर देहात से लाए हैं जो सब धरा के धरा रह गया है. पहली बार ऐसा हुआ है कि बाजार खत्म हो गया है और कमाई का कोई जरिया नहीं रहा है. राजेंदर पंडित का कहना है कि इस बार कोई ग्राहक ही नहीं है किसके लिए दीया बनाएंगे. सारा माल धरा पड़ा है.

सम्बंधित वीडियो गैलरी