पटना: दुर्गा पूजा पर कोरोना का असर, कारीगर बना रहे 5 इंच की माँ की प्रतिमाएं

Smart News Team, Last updated: 16/10/2020 08:51 PM IST
कोरोना का असर दुर्गा पूजा पर भी दिख रहा है. कोरोना के कारण पहले भी कई त्यौहारों का रंग फीका हुआ है. पूजा पंडाल में मूर्तियों के आर्डर बिल्कुल भी नहीं है. इसी कारण बाजार में छोटे आकार की 5 इंच की दुर्गा मैया की मूर्तियां ज्यादा दिख रही हैं. कारीगरों का कहना है कि इन छोटी दुर्गा मां की प्रतिमाएं को घर में आसानी से रखा जा सकता है. दुकानदारों की ओर से उन्हें आर्डर देकर भी छोटे आकार की मूर्तियां मंगवाई जा रही हैं. उनका कहना है कि लोग इन छोटी मूर्तियों को खरीदने में काफी उत्सुकता दिखा रहे हैं और उन्हें लोगों से अच्छा रिस्पांस मिल रहा है.                                                                                                                      मूर्तिकार सूरज जिनके दादा-पड़दादा दुर्गा मां की मूर्तियां बनाते रहे हैं. उनका कहना है कि कोरोनाकाल के कारण बड़े आर्डर नहीं मिल रहे हैं. उनका यह पुश्तैनी धंधा है और वह कारीगर आदमी हैं इसलिए वह पांच इंच से लेकर दो फीट तक ऊंची प्रतिमाएं बना रहे हैं. जिसे खरीदने लोग भी आ रहे हैं. उसी से गुजारा चल रहा है. उनका कहना है कि दुर्गा पूजा को लेकर इस बार केवल छोटी मूर्तियों की तैयारी की है. पहले बड़ी मूर्तियों के दुर्गा पूजा के दौरान दस मूर्तियों तक के आर्डर मिल जाते थे लेकिन इस बार ऐसा नहीं है.                                                        कारीगर सूरज ने कहा कि दो फीट तक की मूर्ति को बनाने में करीब एक सप्ताह का समय लग जाता है. इसके अलावा बड़ी प्रतिमा बनाने में 15 से 20 दिन का समय लगता है जिसे बनाने में 5 से 6 कारीगर लगते हैं. कोरोनाकाल के कारण इस बार सिर्फ दो फीट तक बड़ी प्रतिमा को ही बनाया जा रहा है क्योंकि कोरोना के चलते आर्डर कम मिल रहे हैं. इसलिए अन्य कारीगरों की ओर से भी छोटे आकार की छोटी  प्रतिमाओं को ही बनाया जा रहा है. इन मूर्तयों को हर घर में विराजमान किया जा सकता है, इसलिए वह ऐसी मूर्तियां ही बना रहे हैं और उन्हें लोग खरीद भी रहे हैं.   

सम्बंधित वीडियो गैलरी