पटना: छठ घाटों पर चाक-चौबंद सुरक्षा व्यवस्था, नाव से भी निगरानी करेगी पुलिस

Smart News Team, Last updated: 19/11/2020 10:11 PM IST
  • चार दिवसीय छठ महापर्व के दूसरे दिन आज खरना का आयोजन हो रहा है. छठ व्रती धूमधाम से आज खरना का प्रसाद तैयार कर रही हैं और लोगों के साथ मिलकर प्रसाद वितरण किया जा रहा है. खरना में व्रती पूरे दिन उपवास के बाद शाम को चावल का खीर और रोटी खाती हैं. साथ ही यही प्रसाद उनके घर के लोगों और आने वाले परिजनों को भी दिया जाता है. इस प्रसाद को पूरे धूमधाम से गीत-संगीत के बीच व्रती द्वारा ही तैयार किया जाता है.
  • छठ घाटों की तैयारी पूरी कर ली गई है. सुरक्षा के चाक चौबंद उपाय किए गए हैं. घाटों पर एनडीआरएफ और एसटीएफ की टीम गुरुवार से ही तैनात हो गई हैं. साथ ही जिला पुलिस बल के सैकड़ों जवानों की तैनाती घाटों पर की गई है. इसके अलावा नाव से भी पुलिस छठ व्रतियों की सुरक्षा का जायजा लेगी. सुरक्षा में किसी तरह की कोताही नहीं बरती जा रही.
  • छठ के दौरान किसी भी आपात्त स्थिति से निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने भी तैयारी पूरी की है. सिविल सर्जन की टीम के द्वारा पटना के छह घाटों पर अस्थाई अस्पताल तैयार किया गया है. इन अस्पतालों में सभी एमरजैंसी सुविधाओं समेत 24 घंटे डॉक्टरों और नर्सिंग स्टाफ की तैनाती होगी. इसके अलावा 35 एंबुलैंस को भी हाई अलर्ट पर रखा गया है. यह एंबुलैंस उन सभी घाटों पर तैनात होगी जहां पहुंच पथ का निर्माण किया जा चुका है.
  • मंत्री मंगल पांडेय ने लगातार दूसरी बार स्वास्थ्य मंत्रालय का पदभार संभाला है. गुरुवार को उन्होंने प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत व अन्य अधिकारियों के साथ एक बैठक की. बैठक में स्वास्थ्य व्यवस्था दुरुस्त करने संबंधी निर्देश दिए गए. साथ ही सभी मेडिकल कॉलेजों और सरकारी अस्पतालों में मरीजों की बेहतर सुविधा हो इसके लिए कार्य योजना बनाने के निर्देश दिए गए. पटना में एक बार फिर कोरोना बेकाबू हो गया है. गुरुवार को कुल 245 कोरोना संक्रमित मिले. सिविल सर्जन विभा कुमारी सिंह ने बताया कि स्वास्थ्य मंत्रालय ने लोगों की सुरक्षा के लिए अपील की है कि बाहर से पटना आने वाले सभी श्रद्धालुओं को कोरोना जांच कराने की अपील की जा रही है. उनका रिपोर्ट 5 मिनट में देने की बात सिविल सर्जन कार्यालय द्वारा की जा रही है.

सम्बंधित वीडियो गैलरी