चुनाव के मुद्दों से गायब है सड़क पर सोने वालों की समस्या

Smart News Team, Last updated: 10/10/2020 12:09 PM IST
बिहार विधानसभा चुनाव में सड़क पर सोने वाले लोगों की समस्या का मुद्दा गायब है। पटना के स्टेशन गोलंबर के आसपास कोई रैन बसेरा ना होने से लोग सड़क पर ही सोने को मजबूर हैं। इन लोगों में स्टेशन के आसपास रिक्शा चलाकर गुजारा करने वाले और भीख मांगकर गुजारा करने वाले लोग शामिल हैं। इन लोगों के पास बिस्तर तक भी नहीं है। विधानसभा चुनावों के मद्देनजर राजनीतिक लोग बड़े-बड़े दावे कर रहे हैं पर सड़क पर सोने वाले इन लोगों की सुध लेने वाला कोई नहीं है। इनमें से कई लोग तो ऐसे हैं जो कई वर्षों से यहां रह रहे हैं और उनका वोटर आईडी कार्ड तक नहीं बना है। इनका कहना है कि पुलिस उन्हें सड़क पर भी सोने नहीं देती और मारकर भगा देती है। पटना के स्टेशन गोलंबर पर सैकड़ों ऐसे लोग हैं जो रोजाना सड़क पर सोते हैं तो पूरे जिले में ऐसे कितने और लोग होंगे आप खुद ही अंदाजा लगा सकते हैं, पर इन लोगों की सुध लेने आज तक कोई नहीं आया। विधानसभा चुनाव सिर पर हैं लेकिन किसी भी राजनीतिक पार्टी के मेनिफेस्टो में इन भिखारियों और सड़क पर सोने वाले लोगों का एजेंडा शामिल नहीं है कि इन लोगों को मुकम्मल तरीके से कैसे रखा जाए या फिर इनका विकास कैसे किया जाए।

सम्बंधित वीडियो गैलरी