महंत नरेंद्र गिरि की षोडशी और बलवीर गिरी के पट्टाभिषेक में 10 हजार साधु-संत शामिल होंगे

Sumit Rajak, Last updated: Mon, 4th Oct 2021, 6:58 PM IST
  • अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र गिरी की षोडशी कर्मकांड में निरंजनी अखाड़े के आचार्य महामंडलेश्वर,मंडलेश्वर, सचिव समेत सभी 13 अखाड़ों के प्रतिनिधि उपस्थित रहेंगे. साथ ही 10 हजार साधु संत के अलावा राजनीतिक और सामाजिक लोग भी शामिल होंगे. किसी अवसर पर बलवीर गिरी का पट्टाभिषेक किया जाएगा.
नरेंद्र गिरी की षोडशी कर्मकांड(फाइल फोटो)

प्रयागराज: अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र गिरी की षोडशी कर्मकांड में अनुष्ठान के सभी तेरह अखाड़ों के प्रतिनिधि और 10 हजार साधु संत के अलावा राजनीतिक और सामाजिक लोग भी इस कार्यक्रम में शामिल होंगे. अमूमन किसी की मृत्यु होने पर आत्मा की शांति के लिए 13 वें दिन भोज और हवन पूजा होता है. लेकिन साधु-संतों की मृत्यु पर 16वें दिन शांति हवन और भोज किया जाता है. उसी परंपरा के अनुसार जैसे गृहस्थ की तेरहवीं में 13 महा ब्राह्मणों को भोजन कराया जाता है. दान -दक्षिणा के साथ उनका आदर सत्कार किया जाता है.

 

षोडशी में हरिद्वार के गुद्दड अखाड़े को विशेष निमंत्रण दिया गया है. यह निरंजनी अखाड़े का एक भाग होता है. इस अखाड़े के साधु-संतों को भोजन और दान दिया जाता है.  अखाड़े के महात्मा षोडशी संस्कार में  भोजन ग्रहण करते हैं और दान दक्षिणा लेते हैं. इन अखाड़ों में जुड़े महात्माओं को 16 प्रकार का दान दिया जाता है. अन्य आत्माओं को दक्षिणा दिया जाता है.इस अखाड़े से जुड़े महात्मा हरिद्वार, काशी, नाशिक, उज्जैन सहित कई शहरों में रहते हैं.

लखीमपुर खीरी हिंसा Live Updates: योगी सरकार का ऐलान- मृतक किसानों को 45 लाख व घायलों को 10 लाख मुआवजा और सरकारी नौकरी

 

निरंजनी अखाड़े के सचिव रविंद्र पुरी ने बताया कि गृहस्थ की मृत्यु के बाद उसका कर्म13 वें दिन में संत महात्माओं के मृत्यु के बाद उसका क्रर्म 16 दिन होता है. ठीक उसी प्रकार हमारे यहां संत महात्माओं के क्रम में भी 16 ऐसे सन्यासियों को दान दक्षिणा दी जाती है. जिन्होंने अपना पिंड दान कर दिया है. इन संतो को नरेंद्र गिरी जी महाराज को जो चीजें पसंद थी. उसके मुताबिक 16 भौतिक चीजें दान में दी जायेगी. अन्य महात्माओं को उचित दक्षिणा भी दी जाती है .साथ हीं उनका आदर सत्कार किया जाता है.

कैंसर से जिंदगी की जंग हार गए तारक मेहता का उल्टा चश्मा के 'नट्टू काका'

 

निरंजनी अखाड़े के सचिव रविंद्र पुरी ने कहा कि इस अवसर पर बलवीर गिरी का पट्टा विषय किया जाएगा. इसके बाद महंतई चादरविधि के तहत वैदि मंत्रोच्चार के बीच निरंजनी अखाड़े के आचार्य महामंडलेश्वर, मंडलेश्वर, सचिव समेत सभी 13 अखाडों के प्रतिनिधि शामिल होंगे. उन्हें श्रीमठ बाघम्बरी गद्दी का महंत घोषित किया जाएगा.

 

लखीमपुर खीरी हिंसा: पुलिस हिरासत में प्रियंका गांधी, कहा- पीड़ित परिवारों से मिले बिना ग्रहण नहीं करूंगी अन्न-जल

 

लखीमपुर खीरी में मचे बवाल के बीच प्रियंका गांधी का कमरे में झाड़ू लगाते Video Viral

 

 

अन्य खबरें