बाघंबरी मठ व बड़े हनुमान मंदिर के महंत बलवीर गिरी ने संगम तट पर गंगा आरती की

Nawab Ali, Last updated: Fri, 15th Oct 2021, 9:04 AM IST
  • बाघंबरी मठ व बड़े हनुमान मंदिर के नये महंत बलवीर गीरी ने गुरुवार शाम को संगम तट पर पहुंच कर बीच धारा में गंगा आरती की. बलवीर गिरी ने गंगा की बीच धारा में पहुंचने के बाद उन्होंने दूध से त्रिवेणी में अभिषेक किया इसके बाद फूल चढ़ाकर आरती उतारी.
महंत बलवीर गिरी ने गंगा आरती उतारी.

प्रयागराज. अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी की संदिग्ध मौत के बाद बाघंबरी मठ व बड़े हनुमान मंदिर के प्रमुख बने आचार्य महंत बलवीर गिरि गुरूवार को गंगा आरती करने संगम तट पर पहुंचे. महंत नरेंद्र गिरी ने शाम को संगम तट पर पहुंचने के बाद नाव में सवार होकर बीच धारा में गए जिसके बाद उन्होंने गंगा के साथ यमुना और अदृश्य सरस्वती की भी आरती की. महंत नरेंद्र गिरी ने चादरपोशी के दौरान ऐलान किया था कि वो पहले बजरंगबली की आरती उतारेंगे और बाद में त्रिवेणी तट जाएंगे. 

बाघंबरी मठ व बड़े हनुमान मंदिर के महंत बलवीर गिरी गुरूवार की शाम को संगम तट पर पहुंचे जहां नाव में स्वर होकर बीच धारा में गये और गंगा के साथ यमुना और अदृश्य सरस्वती की भी आरती उतारी. महंत बलवीर गिरी ने चादरपोशी के दौरान ही ऐलान किया था कि वो पहले बजरंगबली की आरती उतारेंगे और फीर त्रिवेणी तट पर जायेंगे. बलवीर गिरी ने गंगा की बीच धारा में पहुंचने के बाद उन्होंने दूध से त्रिवेणी में अभिषेक किया इसके बाद फूल चढ़ाकर आरती उतारी. इस दौरान गुरु महंत हरिगोविंद पुरी, महंत केशव पुरी साथ में रहे. महंत बलवीर गिरी को मठ बाघंबरी के बटुक ब्राह्मणों ने पूजन कराया.

क्लास में निकला नाग-नागिन का जोड़ा, यूपी के ‘टार्जन’ ने ऐसे बचाई छात्रों की जान

महंत नरेंद्र गिरी की संदिग्ध मौत मामले में जांच कर रही सीबीआई की टीम ब्रहस्पतिवार को बाघंबरी मठ पहुंची थी जहां पर उन्होंने मठ के कई सेवादारों और नरेंद्र गिरी के करीबियों से कई घंटे पूछताछ की है. सीबीआई ने महंत की मौत मामले में आरोपी शिष्य आनंद गिरी समेत तीन लोगों के नारको टेस्ट की अर्जी कोर्ट में दी है. आपको बता दे की अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी बाघंबरी मठ में संदिग्ध परिस्थितियों में फंदे से लटके मिले थे. 

 

अन्य खबरें