जनरथ बस ने बाइक सवार युवक समेत 6 साल की बच्ची को कुचला, मौके पर एक की मौत

Sumit Rajak, Last updated: Mon, 11th Oct 2021, 3:03 PM IST
  • प्रयागराज के सिविल लाइंस थाना क्षेत्र के हनुमान मंदिर के पीछे तुलसी चौराहे के पास रविवार को जनरथ बस ने बाइक सवार व्यक्ति और उसकी 6 साल की मासूम बेटी को कुचल दिया. मोहम्मद जाबिर अपनी बेटी हुदा  के साथ बाइक से जनरल स्टोर के लिए सामान खरीदने चौक जा रहा था. उस व्यक्ति की मौत मौके पर हो गई. उसकी बेटी को अस्पताल में भर्ती कराया जहां खतरे से बाहर बताया जा रहा है.
प्रतीकात्मक फोटो

प्रयागराज: प्रयागराज के सिविल लाइंस थाना क्षेत्र के हनुमान मंदिर के पीछे तुलसी चौराहे के पास रविवार को जनरथ बस ने बाइक सवार व्यक्ति और उसकी 6 साल की मासूम बेटी को कुचल दिया. उस व्यक्ति की मौत मौके पर हो गई . उसकी 6 साल की बेटी बच गई. बच्ची को अस्पताल में भर्ती कराया. जहां डॉक्टरों ने बच्ची को खतरे से बाहर बताया है. सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई.पुलिस व्यक्ति के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. युवक का नाम मोहम्मद जाबिर उर्फ गुड्डू (45) और उनकी बेटी का नाम हुदा (6) है. युवक पेशे से व्यापारी है. इस हादसे को लेकर सिविल लाइंस में अफरातफरी मच गई. इस पूरी वारदात के बाद बस ड्राइवर फरार हो गया. पुलिस सीसीटीवी के माध्यम से तो बस का पता लगाने का कोशिश कर रही है.इसके साथ ही पुलिस जांच में जुट गई है.

 

मोहम्मद जावेद  का रसूलाबाद घाट के पास जनरल स्टोर की दुकान है. मोहम्मद जाबिर बेटी के खुदा के साथ बाइक से जनरल स्टोर के लिए सामान खरीदने चौक जा रहा था. वह व्यक्ति जब सिविल लाइंस स्थित हनुमान मंदिर के पीछे तुलसी चौराहे के पास पहुंचा. एक जनरथ बस ने उसे टक्कर मार दी. बस की टक्कर मारने से उसकी बाइक का संतुलन बिगड़ मोहम्मद जाबिर सड़क पर जा गिरा. साथ हीं उसकी बेटी खुदा रोड के किनारे जा गिरी. वह व्यक्ति सही हो पाता तब तक बस का चक्का मोहम्मद जाबिर के सिर पर चढ़ गया. जिससे उसकी मौत मौके पर हो गई. उसकी बेटी बच गई. सूचना मिलते ही  मौके पर पहुंची पुलिस ने युवक की बेटी को एसआरएन अस्पताल में एडमिट करा दिया है. बच्ची अभी खतरे से बाहर बताई जा रही है.

 

देर रात घर में घुस पिता की गोली मारकर हत्या, छोटे भाई व युवक को जमकर पीटा

 

मोहम्मद जाबिर की पत्नी सीमा परवीन और परिवार के अन्य सदस्य को घटना की जानकारी मिलते ही सभी ने एसआरएन अस्पताल और पहुंच गया .वही उसकी पत्नी का रो रोकर बुरा हाल था. बेटी हुदा का इलाज चल रहा था. फिलहाल बेटी खतरे से बाहर बताई जा रही है. जाबिर ने ब्रांडेड कंपनी का हेलमेट भी पहन रखा था. फिर भी उसकी जान चली गई. लोगों का कहना है कि यदि बस का पहिया जाबिर के सर पर नहीं चढ़ता तो शायद वह बच जाता. इस पूरी घटना के बाद बस का ड्राइवर फरार हो गया फिलहाल पुलिस पूरी घटना का जांच कर रही है.

 

प्रेमी ने प्रेमिका को अपनी जिंदगी से हटाने के लिए जहर देकर की हत्या,दूसरी युवती से था प्रेम प्रसंग

 

अन्य खबरें