मां बेटी के डबल मर्डर केस में पुलिस का खुलासा, बहू ने रची थी हत्या की साजिश, तीन गिरफ्तार

Swati Gautam, Last updated: Sat, 16th Oct 2021, 11:37 PM IST
  • मंगलवार देर रात बदमाशों ने घर में घुस कर मां बेटी की हत्या कर दी थी और पिता को गंभीर रूप से घायल कर दिया. मां बेटी की हत्या का राजफाश शनिवार को पुलिस ने कर दिया. इस डबल मर्डर की साजिश उनकी बहु ने रची थी वह अपनी बेटी को वापस पाना चाहती थी. पुलिस ने बहू समेत तीन को गिरफ्तार कर लिया है.
मां बेटी के डबल मर्डर केस में पुलिस का खुलासा, बहु ने रची थी हत्या की साजिश, तीन गिरफ्तार (file photo)

प्रयागराज. औद्योगिक क्षेत्र थाना के चकपूरे खुर्द मियां का पूरा गांव में मंगलवार देर बदमाशों ने रात प्रेमा देवी और उसकी पुत्री तनु को मौत के घाट उतार दिया था. अभी तक अंदाजा लगाया जा रहा था कि यह लूट का मामला है लेकिन दोनों की हत्या का राजफाश शनिवार को पुलिस ने कर दिया. पुलिस ने बताया कि इस डबल मर्डर की साजिश उनकी बहू ने रची थी जो पति की मौत के बाद से अपने मायके रहती थी. पुलिस ने मामले में बहू को उसके पति के दोस्त व एक अन्य को गिरफ्तार किया है. साथ ही हत्या में प्रयुक्त चापड़, हसिया, लूटे गए जेवरात, रुपये आदि बरामद किए गए हैं. बताया जा रहा है कि बहू अपनी बेटी को वापस पाना चाहती थी जो कि अपने दादा-दादी के साथ रहती थी.

मंगलवार देर रात बजरंग बहादुर पटेल के घर में कुछ बदमाश घुस गए थे और बहादुर की पत्नी 55 वर्षीय प्रेमा पटेल और बेटी 18 साल की तनु पर हमला कर उनकी हत्या कर दी थी. बदमाशों ने बजरंग पर भी हमला किया था जिससे वह बुरी तरह जख्मी हो गए थे. साथ सो रही उनकी पौत्री छह साल की अंशिका तख्त के पीछे छिप जाने से बच गई थी. पुलिस घटना के बाद से लगातार जांच कर रही थी. पुलिस भी घटना की सच्चाई तक पहुंचने में सफल रही. वहीं जानकारी मिली कि घटना से कुछ दिन पहले बहू अपनी बेटी अंशिका को लेने आई थी लेकिन सास-ससुर ने उसे भेजने से इन्कार कर दिया था. बेटी को वापस पाने की चाह में बहू ने ससुराल वालों की हत्या करने की योजना बनाई.

जमीन बेचने के नाम पर IG रेंज कार्यालय में तैनात सिपाही से लाखों की ठगी, मुकदमा दर्ज

पुलिस ने जैसे ही जांच की दिशा बहू गीता की तरफ मोड़ी तो उसके मोबाइल काल डीटेल समेत अन्य सुबूतों ने इस दोहरे हत्याकांड का पर्दाफाश कर दिया. जानकारी अनुसार बजरंग बहादुर ने इकलौते पुत्र चंद्रशेखर की शादी सात साल पहले घूरपुर इलाके की गीता के साथ की थी. गीता ने एक बेटी अंशिका को जन्म दिया जो अब छह साल की है. घरेलू कलह की वजह से चंद्रशेखर ने चार साल पहले जहर खाकर आत्महत्या कर ली थी जिसके बाद से बहू बेटी को वहीं छोड़ कर अपने मायके रहने लगी थी.

अन्य खबरें