प्रयागराज: मां-बेटी हत्याकांड में पुलिस हिरासत में 14 संदिग्ध, मुख्य आरोपी फरार

Pallawi Kumari, Last updated: Thu, 14th Oct 2021, 2:54 PM IST
  • प्रयागराज में चक पूरे मियां गांव में मां-बेटी की नृशंस हत्या के मामले में पुलिस ने गुरुवार को 14 संदिग्ध लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है. मंगलवार की रात कुछ अज्ञात अपराधियों ने मां प्रेमपति और बेटी तनु पर धारदार हथियार और कपड़ा धोने वाले पिटनी से वार कर बेरहमी से हत्या कर दी थी.
प्रयागराज में मां-बेटी की नृशंस हत्या. प्रतिकात्मक फोटो.

प्रयागराज. प्रयागराज स्थित औद्योगिक थाना क्षेत्र के चक पूरे मियां गांव में मां-बेटी की बेरहमी से हत्या के मामले में पुलिस ने गुरुवार को 14 संदिग्ध लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है. पुलिस नैनी और औद्योगिक थाना में हिरासत में लिए गए लोगों से पूछताछ कर रही है. वहीं गुरुवार सुबह क्राइम ब्रांच की एक टीम ने घटनास्थल पर जाकर आसपास के लोगों से पूछताछ की. इसके साथ ही पुलिस इस हत्याकांड में जांच के कई बिंदुओं पर जांच कर रही है. पुलिस के अनुसार मां-बेटी के शव का आज पोस्टमार्टम होगा. वहीं गांव में हत्या के विरोध के मद्देनजर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं.

गौरतलब है कि औद्योगिक थाना क्षेत्र के चकपुरे मियां खुर्द गांव निवासी बिजली मिस्त्री बजरंग बहादुर पटेल 50 वर्षीय पत्नी प्रेमपति, 17 वर्षीय पुत्री तनु और छह वर्षीय पोती अंशिका के साथ रहते हैं. मंगलवार की रात अज्ञात अपराधियों ने पत्नी प्रेमपति और पुत्री तनु पर धारदार हथियार और कपड़ा धोने वाले पिटनी से वार कर हत्या कर दी थी. अपराधियों ने बजरंग बहादुर पर भी जानलेवा हमला किया जिससे वह गंभीर रूप से घायल गए.

प्रेमिका ने मिलने को बुलाया, घरवालों ने पीट-पीटकर की प्रेमी की हत्या

बुधवार की सुबह पोती अंशिका सोकर उठी और अपने दादा-दादी को उठाया तो वे नहीं उठे. उसके बाद पोती अंशिका घर से बाहर निकली और पड़ोस में रहने वाले मुन्ना लाल को बताया कि उनके दादा-दादी नहीं उठ रहे हैं. इसके बाद घटना की सूचना पुलिस को दी गई. मां-बेटी की नृशंस हत्या को देखते हुए क्राइम ब्रांच की टीम भी पहुंची. घटनास्थल पर जांच के लिए फॉरेंसिक टीम की भी मदद ली गई और खोजी कुत्ते को भी बुलाया गया.

CCS: पहली ओपन मेरिट में नाम आ गया तो तुरंत करा लें एडमिशन, देरी पड़ सकती है भारी

अन्य खबरें