रेलवे की लापरवाही! मुंबई से प्रयागराज आ रही ट्रेन से गिरा ताबूत के साथ महिला का शव

ABHINAV AZAD, Last updated: Thu, 16th Sep 2021, 10:02 AM IST
  • रेल महकमे की लापरवाही का आलम यह है कि एक महिला का शव ताबूत के साथ नीचे गिर गया. जिसके बाद ताबूत को ढूंढ़ने में रेलवे के अधिकारियों के पसीने छूट गए.
(प्रतीकात्मक फोटो)

प्रयागराज. भारतीय रेलवे में ट्रेनें लेट होने, पैसेंजरों के सामान चोरी होने की बात लगातर सामने आती रहती है. लेकिन इस बार अजीबोगरीब मामला सामने आया है. दरअसल, इस बार भारतीय रेलवे की लापरवाही सामने आई है. रेल महकमे की लापरवाही का आलम यह है कि एक महिला का शव ताबूत के साथ नीचे गिर गया. जिसके बाद ताबूत को ढूंढ़ने में रेलवे के अधिकारियों के पसीने छूट गए.

ट्रेन से महिला का शव और ताबूत गिरने के बाद मुंबई से लेकर प्रयागराज तक हड़कंप मच गया. लेकिन तकरीबन 16 घंटे की मशक्कत के बाद शव और ताबूत को ढूंढ लिया गया. इस दौरान मृत महिला के परिजन परेशान होते रहे. साथ ही शव का अंतिम संस्कार भी एक दिन बाद किया जा सका. मिली जानकारी के मुताबिक, उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले के पट्टी इलाके की रहने वाली बुजुर्ग महिला सवारी बेगम कैंसर की बीमारी से पीड़ित थीं. पीडि़ता का मुंबई के टाटा हॉस्पिटल में उनका इलाज चल रहा था. लेकिन तीन दिन पहले इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. जिसके बाद परिजनों ने शव को ताबूत में रखकर उसे ट्रेन के ज़रिये प्रयागराज लाने का फैसला किया.

योगी सरकार की स्कीम: बेटियों की शादी के लिए मिलेंगे 75 हजार, बस ऐसे करें अप्लाई

नार्थ सेंट्रल रेलवे जोन के सीपीआरओ डॉ. शिवम शर्मा पहले तो मामले से पल्ला झाड़ने की कोशिश की. उन्होंने इस मामले को दूसरे जोन का बता दिया. लेकिन जब उन्हें याद दिलाया गया कि प्रयागराज छिंवकी स्टेशन, जहां शव उतरना था, वह इसी जोन में आता है, तब उन्होंने लीपापोती की कोशिश की. दरअसल, उन्होंने कहा कि जबलपुर के आरपीएफ अफसरों ने बताया कि रास्ते में पागल सा दिखने वाला कोई शख्स ट्रेन के नजदीक आ गया था. उन्होंने उस शख्स पर एसएलआर कोच की सील को तोड़ देने का आरोप लगाया. डॉ. शर्मा के मुताबिक, इस वजह से रास्ते में मैहर के पास ताबूत छिटककर गिर गया.

अन्य खबरें