प्रयागराज : होमगार्ड पर तमंचे से हमला कर हत्यारोपी को छुड़ाने का प्रयास, मचा हड़कंप

Sumit Rajak, Last updated: Tue, 15th Feb 2022, 6:15 AM IST
  •  राजकीय बाल संप्रेक्षण गृह में बंद प्रतापगढ़ के एक हत्यारोपी को पेट में दर्द होने पर सोमवार को होमगार्ड सुरेश चंद्र शुक्ला और संविदाकर्मी संजीव उसे कॉल्विन अस्पताल ले गए. इलाज कराकर लौटते वक्त रास्ते में स्टेशन रोड पुलिस चौकी के सामने पहले से खड़े कौशाम्बी के बाइक सवार ने होमगार्ड पर हमला कर हत्यारोपी को छुड़ा लिया. उसे बाइक पर बैठाकर भागने लगा.
होमगार्ड पर तमंचे से हमलाकर हत्यारोपी फरार

प्रयागराज. उत्तर प्रदेश के प्रयागराज. में नोहर दास नेत्र चिकित्सालय के सामने सोमवार दोपहर में बाइक सवार दो युवक होमगार्ड पर हमला करके हत्या आरोपित नाबालिक को पुलिस कस्टडी से लेकर फरार हो गए. उन्होंने होमगार्ड के सिर पर तमंचे की बट से हमला कर दिया जिससे वह खून से लथपथ होकर नीचे गिर गया. सनसनीखेज तरीके से वारदात को अंजाम देकर आरोपी के भागने की सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने छानबीन की. पूरे इलाके में नाकाबंदी करके बाइक सवार आरोपियों की तलाश में चल रही है. 

पुलिस ने बताया कि प्रतापगढ़ का रहने वाले 16 वर्षीय किशोर को हत्या के आरोप में पकड़ कर प्रयागराज स्थित जिला बाल सुधार गृह में भेजा गया था. सोमवार को जिला सुधार गृह में ड्यूटी करने वाले होमगार्ड सुरेंद्र कुमार शुक्ला आरोपी किशोर को लेकर कॉल्विन अस्पताल मेडिकल परीक्षण कराने जा रहे थे. अस्पताल पहुंचने से पहले ही बाइक सवार दो युवक पहुंचे और उन्होंने नाबालिक को अपनी ओर खींच लिया. विरोध करने पर दो युवक होमगार्ड पर हमला करके हत्या आरोपित नाबालिक को पुलिस कस्टडी से लेकर फरार दिया. हत्या की धमकी देते हुए आरोपी को पुलिस कस्टडी से लेकर भाग निकले. घायल होमगार्ड को काल्विन अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

प्रयागराज के यश दयाल IPL में दिखाएंगे कमाल, गुजरात टाइटंस ने 3.20 करोड़ में खरीदा

इसी दौरान पकड़ ढीली होने पर बाल कैदी हाथ छुड़ाकर भागने लगा और उधर तमंचा लहराते हुए उसे छुड़ाने वाला किशोर भी भागा. यह देख होमगार्ड ने उसे खदेड़ लिया और कुछ दूर जाने पर ही हमलावर को दबोच लिया. शोरगुल मचने पर आसपास के लोग दौड़े और गाड़ीवान टोला की ओर जाने वाली गली के पास घेरकर भाग रहे बाल अपचारी को भी पकड़ लिया. सूचना पर पुलिस पहुंची लेकिन तब तक होमगार्ड दोनों को लेकर संप्रेक्षण गृह पहुंच गया था. जिसके बाद पुलिस ने वहां पहुंचकर उन्हें हिरासत में ले लिया. उधर घटना से हड़कंप मच गया. जानकारी पर अफसर भी पहुंच गए.

अन्य खबरें