प्रयागराज में युवाओं ने रोजगार के लिए बुलंद की आवाज, CM योगी के नाम सौंपा ज्ञापन

ABHINAV AZAD, Last updated: Wed, 17th Nov 2021, 7:33 AM IST
  • प्रयागराज के बालसन चौराहे पर प्रतियोगी छात्रों ने युवा मंच के बैनर तले लगातार चार घंटे कर विरोध प्रदर्शन किया. साथ ही इसके बाद छात्रों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नाम ज्ञापन सौंपा.
प्रयागराज में युवा मंच के बैनर तले छात्रों ने अपनी मांगों को लेकर बालसन चौराहे पर प्रदर्शन किया.

प्रयागराज. मंगलवार को युवा मंच के बैनर तले प्रतियोगी छात्रों ने उत्तर प्रदेश के विभिन्न विभागों में खाली पड़े पांच लाख पदों को भरने की मांग को लेकर बालसन चौराहे पर प्रदर्शन किया. इस दौरान प्रतियोगी छात्रों ने तकरीबन चार घंटे तक प्रदर्शन किया. साथ ही छात्रों ने जिला प्रशासन के माध्यम से मुख्यमंत्री को भेजा. युवाओं ने चेतावनी दी कि यदि एक सप्ताह में भर्ती के लिए विज्ञापन जारी नहीं किया तो 30 नवंबर को प्रयागराज के बालसन चौराहे पर प्रदेशव्यापी आंदोलन होगा.

मंगलवार को प्रयागराज के बालसन चौराहे पर छात्रों पर तकरीबन चार घंटे तक प्रदर्शन किया. जिसके बाद जिला प्रशासन के माध्यम से मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन प्रेषित किया. छात्रों ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन में कहा कि अशासकीय महाविद्यालयों में टीजीटी-पीजीटी के 27 हजार, जीआईसी में एलटी ग्रेड शिक्षक के 12 हजार, प्राथमिक स्कूलों में शिक्षकों के 97 हजार और पुलिस के 52 हजार रिक्त पदों को भरने के लिए जल्द से जल्द विज्ञापन जारी किया जाए.

किन्नर अखाड़े ने कंगना के आजादी वाले बयान को बताया देशद्रोह, कहा- मांगें माफी

साथ ही प्रदर्शन कर रहे छात्रों ने ज्ञापन के माध्यम से मुख्यमंत्री से जूनियर हाईस्कूलों में बीपीएड शिक्षकों के तकरीबन 48 हजार पदों को जल्द से जल्द भरने की मांग की. छात्रों ने ज्ञापन के माध्यम से मुख्यमंत्री से बाकी खाली पदों के लिए भी जल्द विज्ञापन जारी करने की मांग की. साथ ही छात्रों ने कहा कि कोविड-19 के वजह से जो छात्र भर्ती परीक्षाओं में शामिल होने से वंचित रह गए और अब अधिकतम आयु सीमा पूरी कर चुके हैं, उन्हें अधिकतम आयु सीमा में दो वर्ष की छूट दी जाए. बताते चलें कि युवा मंच के बैनर तले प्रतियोगी छात्रों ने उत्तर प्रदेश के विभिन्न विभागों में खाली पड़े पांच लाख पदों को भरने की मांग को लेकर बालसन चौराहे पर प्रदर्शन किया. इस दौरान प्रतियोगी छात्रों ने तकरीबन चार घंटे तक प्रदर्शन करने के बाद मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा.

अन्य खबरें