कोरोना से हुई मौत के लिए 15 अक्टूबर से कर सकते हैं आवेदन, जानें प्रक्रिया और गाइडलाइन

Shubham Bajpai, Last updated: Fri, 8th Oct 2021, 2:33 PM IST
  • कोरोना से हुई मौतों के बाद उनके परिजनों को मिलने वाले मुआवजे की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. इसके लिए रायपुर में 15 अक्टूबर तक आवेदन किया जा सकता है. इसके लिए मृतक के परिजन रायपुर के तहलीस कार्यालय में आवेदन दे सकता है.
कोरोना से हुई मौत के लिए 15 अक्टूबर से कर सकते हैं आवेदन, जानें प्रक्रिया और गाइडलाइन (फोटो सभार एएफपी)

रायपुर. रायपुर जिले में जिन लोगों की कोरोना से मौत हुई है उनके परिजनों को राहत देने के लिए मुआवजा देने की प्रक्रिया को शुरू कर दिया गया है. यह प्रक्रिया 15 अक्टूबर तक चलेगी. इस दौरान मृतक के परिजन तहसील कार्यालय आकर आवेदन कर सकते हैं. इस दौरान मृतक के परिजन को कोरोना डेथ अर्सेट्रनिंग कमेटी सर्टिफिकेट के साथ जमा करना होगा.

मृतक के परिजनों को मिलेगा 50 हजार मुआवजा

कोरोना से मरने वाले व्यक्ति को मुआवजे के तौर पर 50 हजार रुपये मुआवजा मिलेगा. इस दौरान जो लोग तहसील कार्यालय आवेदन करने नहीं जा सकते हैं वो रायपुर जिले की वेबसाइट www.raipur.gov.in पर भी आवेदन कर सकते हैं.- 

BJP MP सरोज पांडे दुर्ग में घायल, बघेल ने ग्रीन कॉरिडोर बनवाकर रायपुर एम्स में भर्ती कराया

ऐसे करें आवेदन

आवेदन करने के लिए सबसे पहले डेथ अर्सेट्रनिंग सर्टिफिकेट की आवश्यकता होगी. जिसके लिए आवेदक को जिले के सीएमओ कार्यालय में आवेदन करना होगा. जहां सर्टिफिकेट के लिए सुबह साढ़े 10 से शाम साढ़े 5 बजे तक आवेदन जमा किया जाएगा. समिति आवेदन का परीक्षण करेगी. जिसके बाद सर्टिफिकेट इश्यू किया जाएगा. जिसके बाद आवेदक तहसील कार्यालय या ऑनलाइन अपने अन्य जरूरी दस्तावेज (आधार कार्ड, बैंक पासबुक) की फोटोकॉपी कराकर मुआवजे के लिए जमा करेगा.

सिलगर में आदिवासियों की मौत पर BJP से बोले बघेल- इसे लखीमपुर खीरी से नहीं जोड़ें

रायपुर में हुई कोरोना से 3139 मौत

जिला प्रशासन के आधिकारिक आंकड़े के अनुसार, जिले में 3139 मौत कोरोना से हुई हैं. इन सभी को मुआवजा देने की प्रशासन तैयारी कर रहा है. प्रति व्य़क्ति 50 हजार रुपये मुआवजा के मुताबिक 15.69 करोड़ से अधिक रूपये का प्रशासन को भुगतान करना होगा.

 

अन्य खबरें