बघेल सरकार ने बिजली उपभोक्ताओं को दी बड़ी राहत, 50 फीसदी कटौती का आएगा बिल !

Shubham Bajpai, Last updated: Thu, 18th Nov 2021, 9:14 PM IST
  • छत्तीसगढ़ की भूपेश बघेल सरकार ने प्रदेश के बिजली उपभोक्ताओं को बड़ी राहत दी है. सरकार ने बिजली बिल पर लगने वाली अतिरिक्त सुरक्षा निधि घटा दी है. निधि में 50 फीसदी की कटौती की गई है. जिनका बिल अभी नहीं जमा हुआ उनका बिल कम हो जाएगा. जिनका बिल जमा हो गया उनको अगले बिल में ये राशि एडजस्ट किया जाएगा.
बघेल सरकार ने बिजली उपभोक्ताओं को दी बड़ी राहत, इस कटौती के बाद अब आएगा इतना बिल

रायपुर. छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बिजली के बिल से परेशान उपभोक्ताओं को बड़ी राहत दी है. सीएम बघेल ने बिजली बिल से अतिरिक्त सुरक्षा निधि में कटौती की है. सीएम बघेल के निर्देश के बाद छत्तीसगढ़ स्टेट पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी ने उपभोक्ताओं के बिलों में 50 फीसदी अतिरिक्त सुरक्षा निधि में कटौती की है. इस फैसले से आमजन को राहत मिलने के साथ बिजली बिल के अधिक बोझ से राहत मिलेगी.

इस तरह मिलेगा लाभ

बिजली बिल में सुरक्षा निधि कम होने का सभी उपभोक्ताओं को सीधा लाभ मिलेगा. इसमें जिन्होंने अभी तक बिजली का बिल जमा नहीं किया है उनके बिल जमा करते वक्त ये राशि कम हो जाएगी. वहीं, जिन उपभोक्ताओं ने अपना बिजली का बिजली जमा कर दिया है उनके अगले बिल में जमा की गई ये बढ़ी हुई राशि एडजस्ट हो जाएगी.

2 सगे कांस्टेबल भाइयों पर लगा रेप का आरोप, शादी का झांसा देकर किया यौन शोषण

कोरोना काल में बढ़ाई गई थी निधि

कोरोना काल में पिछले साल अतिरिक्त सुरक्षा राशि बढ़ा दी गई थी. वहीं, लॉकडाउन की वजह से लोग अपने घरों में थे, जिसकी वजह से औसतन अधिक बिजली की खपत हुई जिससे लोगों का बिल सामान्य से औसत अधिक आया. वहीं, इस साल एक साथ दो सालों के बाद गणना की स्थिति बन रही है. जिसके चलते अतिरिक्त सुरक्षा राशि अधिक थी, जिसमें अब सरकार ने 50 फीसदी की कटौती की है.

कलयुग की सावित्री: 7 दिन बाद नक्सलियों से पति को बचा लाई पत्नी, रुला देगा Video

नहीं कराना पड़ेगा बिल में संशोधन

सीएम बघेल के आदेश के बाद अब घरेलू उपभोक्ता बिना बिल में संशोधन कराए अतिरिक्त सुरक्षा निधि की राशि का 50 फीसदी भुगतान कर सकेंगे. इसके लिए बिजली विभाग ने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि उपभोक्ता को इसके लिए वर्तमान में जारी बिल में किसी तरह का संशोधन न करवाना पड़े औऱ आसानी से अतिरिक्त सुरक्षा निधि में 50 फीसदी कटौती होकर उसका बिल जमा हो सके.

 

अन्य खबरें