'अभी शुभ मुहूर्त नहीं है' ऐसा कहकर पत्नी 11 सालों तक नहीं आई ससुराल, पति पहुंचा कोर्ट

Somya Sri, Last updated: Wed, 5th Jan 2022, 12:25 PM IST
  • छत्तीसगढ़ में शादी के 11 साल बीत जाने के बाद भी पत्नी ससुराल नहीं गयी. इसके पीछे पत्नी ने शुभ मुहूर्त नहीं होने का हवाला दिया. शादी के बाद पत्नी ससुराल में मात्र 11 दिन ही रही. पत्नी की इन सब बातों से तंग आकर पति कोर्ट पहुंच गया. कोर्ट ने पति द्वारा दाखिल तलाक की अर्जी को मंजूरी दे दी है.
'अभी शुभ मुहूर्त नहीं है' ऐसा कहकर पत्नी 11 सालों तक नहीं आई ससुराल, पति पहुंचा कोर्ट (प्रतिकात्मक फोटो)

रायपुर: छत्तीसगढ़ से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है. जहां एक पत्नी शुभ मुहूर्त का नाम लेकर 11 सालों तक अपने ससुराल नहीं गयी. शादी के 11 साल बीत चुके हैं जिसके बाद ससुराल में उसने मात्र 11 दिन बिताए है. पत्नी 11 सालों से अपने घर मायके में रह रही है. पति जब भी उसके पास पहुंचता और उसे ससुराल चलने को कहता तो हमेशा शुभ मुहूर्त नहीं है ऐसा कह कर पत्नी टाल देती. जिससे तंग आकर पति ने तलाक की अर्जी कोर्ट में दायर कर दी. कोर्ट ने तलाक को मंजूरी दे दी है.

इस मामले में कोर्ट ने कहा कि शुभ मुहूर्त किसी परिवार के सुखी समय के लिए होता है लेकिन इस मामले में इसे एक बाधा के उपकरण के तौर पर प्रयोग किया गया है. कोर्ट ने विवाह को भंग करते हुए हिंदू विवाह अधिनियम की धारा 13(आईबी) के तहत तलाक की डिक्री को मंजूरी दी. कोर्ट ने यह भी कहा है कि फैक्ट्स के मुताबिक, पत्नी अपने पति को पूरी तरह से छोड़ चुकी थी, इसलिए तलाक पति का हक है.

छत्तीसगढ़ में 24 घंटे में डेढ़ गुने से अधिक बढ़े कोरोना केस, 1059 नए मामले, 3 की मौत

वहीं पत्नी का कहना है कि उसका पति हमेशा उसे अशुभ मुहूर्त में ही घर ले जाने के लिए आता है. जबकि याचिका में संतोष ने कहा था कि 2010 में शादी के बाद उसकी पत्नी सिर्फ 11 दिन उसके साथ रही और फिर मायके चली गई. वहां से उसने अपनी पत्नी को कई बार वापस लाने की कोशिश की, लेकिन वह हर बार शुभ मुहूर्त न होने की बात कहकर आने से इनकार करती रही. जबकि इधर पत्नी का कहना है कि उसका पति कभी शुभ मुहूर्त में उसे लेने ही नहीं आया जिस वजह से वह घर नहीं जा सकी. पत्नी का कहना है कि वह अपने पति के साथ ही है, उसने पति को नहीं छोड़ा है. लेकिन वह अपने रिवाजों का पालन कर रही है.

अन्य खबरें