आतंकवादियों की आर्थिक मदद करने वाले फरार आरोपी को रायपुर पुलिस ने किया गिरफ्तार

Somya Sri, Last updated: Wed, 8th Dec 2021, 9:21 AM IST
रायपुर पुलिस ने पश्चिम बंगाल के दुर्गापुर जिले से आतंकवादी संगठनों को आर्थिक मदद मुहैया करने के मामले में फरार चल रहे एक आरोपी को पश्चिम बंगाल से गिरफ्तार कर लिया है. रायपुर जिले की अदालत ने आतंकवादी संगठन सिमी और इंडियन मुजाहिदीन को धन मुहैया कराने के आरोप में 4 आरोपियों को दस- दस साल की जेल की सजा सुनाई थी. जिसमें 3 आरोपी पुलिस की गिरफ्त में है जबकि एक आरोपी साल 2013 से फरार चल रहा था.
आतंकवादियों की आर्थिक मदद करने वाले 4 लोगों को रायपुर पुलिस ने किया गिरफ्तार (प्रतीकात्मक फोटो)

रायपुर: रायपुर पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है. रायपुर पुलिस ने आतंकवादी संगठनों को आर्थिक मदद मुहैया कराने वाले फरार आरोपी को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने आरोपी को पश्चिम बंगाल से गिरफ्तार किया है. वहीं इस मामले में 4 आरोपियों को रायपुर जिले की अदालत ने आतंकवादी संगठन सिमी और इंडियन मुजाहिदीन को धन मुहैया कराने के आरोप में दस- दस साल की जेल की सजा सुनाई थी. नवंबर महिने में रायपुर जिले की अदालत ने यह फैसला सुनाया था. वहीं 3 आरोपी पुलिस की गिरफ्त में है जबकि एक आरोपी साल 2013 से फरार चल रहा था.

जानकारी के मुताबिक रायपुर पुलिस ने पश्चिम बंगाल के दुर्गापुर जिले से राजू खान (56) को गिरफ्तार कर लिया है. वह वर्ष 2013 से फरार था. इस मामले में रायपुर पुलिस ने बताया कि साल 2013 में आतंकवादी संगठनों को धन मुहैया कराने के आरोप में धीरज साव, जुबैर हुसैन, पप्पू मण्डल और आयशा बानो को गिरफ्तार किया था. इस दौरान राजू खान फरार हो गया था. उन्होंने बताया कि स्थानीय अदालत ने नवंबर, 2021 में धीरज साव, जुबैर हुसैन, पप्पू मण्डल और आयशा बानो को दस- दस साल जेल की सजा सुनाई थी. वहीं पुलिस को अन्य आरोपी राजू खान की तलाश थी.

छत्तीसगढ़ में लोग गोबर से बनी चप्पल को खूब कर रहे पसंद, जानें इसके फायदे और कीमत

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि खान की तलाश के दौरान पुलिस को जानकारी मिली कि उसका संबंध कश्मीर से है और जुबैर हुसैन और आयशा बानो से भी इसका संबंध है. हुसैन और बानो सिमी और इंडियन मुजाहीद्दीन के सदस्य हैं. उन्होंने बताया कि 2013 में जब धीरज साव और अन्य आरोपी पकड़े गए तब से खान पहचान छिपाकर अलग-अलग स्थानों पर निवास कर रहा था. उन्होंने बताया कि जब पुलिस को जानकारी मिली कि खान दुर्गापुर जिले में है तब पुलिस दल को वहां रवाना किया गया. दल के सदस्य राजू खान के निवास स्थान के करीब लगातार मौजूद रहे और मौका मिलते ही खान को गिरफ्तार कर लिया गया. उन्होंने बताया कि खान को गिरफ्तार कर ट्रांजिट रिमांड पर रायपुर लाया गया है. उससे इस संगठन में जुड़े अन्य लोगों के संबंध में पूछताछ की जा रही है.

अन्य खबरें