Video: मां के प्यार के आगे झुक गया वन विभाग, पिंजरे में कैद भालू को छोड़ना पड़ा

Ruchi Sharma, Last updated: Sat, 11th Dec 2021, 1:06 PM IST
  • छत्तीसगढ़ के सूरजपुर जिले में मादा भालू की जिद के आगे वन विभाग को पिंजरे में कैद भालू के बच्चे को छोड़ना पड़ा. बारह घंटे तक उसकी मां पिंजरे के आसपास ही मंडराती रही.आखिर में वन विभाग की टीम ने पिंजरा खोल दिया, जिसके बाद मादा भालू दोनों बच्चों को लेकर जंगल की ओर चली गई. इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.
Video: मां के प्यार के आगे झुक गया वन विभाग, पिंजरे में कैद भालू को छोड़ना पड़ा

रायपुर. इंसानों की तरह जानवर भी अपने बच्चों के लिए किसी भी खतरे से सामना करने से नहीं घबराते. मां की ममता की सबसे खूबसूरत बात है कि ये सिर्फ इंसानों में नहीं बल्कि जानवरों में भी देखने को मिलती है. कुछ ऐसा ही देखने को मिला है. छत्तीसगढ़ के सूरजपुर शहर में. जहां एक गांव में कई दिनों से लगातार तीन भालू घूम रहे थे. शुक्रवार को वन विभाग की टीम ने भालुओं को पकड़ने रेस्क्यू अभियान चलाया. गांव के एक घर में रखे पिंजरे में एक भालू कैद हो गया, लेकिन भालू को वहां से निकाला नहीं जा सका. मादा भालू की जिद के आगे वन विभाग को पिंजरे में कैद भालू के बच्चे को छोड़ना पड़ा.

बारह घंटे तक उसकी मां पिंजरे के आसपास ही मंडराती रही. मां के प्यार की ताकत के आगे वन अफसरों व कर्मियों को झुकना पड़ा. आखिर में वन विभाग की टीम ने पिंजरा खोल दिया, जिसके बाद मादा भालू दोनों बच्चों को लेकर जंगल की ओर चली गई. अब इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

 

फिर चलाया जाएगा रेस्क्यू अभियान

डीएफओ बीएस भगत ने बताया कि सूरजपुर से लगे पर्री गांव में एक व्यक्ति के बाड़े में रेडी टू ईट का प्लांट है. भालू अपने दो बच्चों के साथ रात को वहां आते थे और गुड़, चना और मूंगफली का दाना खाकर वापस लौट जाते थे. वन्यप्राणियों की सुरक्षा और किसी तरह की हिंसा से बचने भालुओं को पकड़ने प्लांट में ही पिंजरा लगाया गया था. कई घंटों की मशक्कत के बाद सफलता मिली और तीन में से एक भालू पिंजरे में कैद हो गया, जबकि दो भालू बंद पिंजरे के इर्द-गिर्द घूमते रहे. पिंजरे में कैद भालू की आवाज की वजह से बाहर घूम रहे भालू लगातार पिंजरा को खोलने का प्रयास करते रहे. भालुओं के आक्रोश को देखते हुए अंत में पिंजरा खोलना पड़ा. डीएफओ ने बताया कि भालुओं को पकड़ने फिर रेस्क्यू अभियान चलाया जाएगा.

अन्य खबरें