भूपेश सरकार बच्चों के लिए खोलेगी बालवाड़ी, देगी अंतर्राष्ट्रीय मानक आधारित शिक्षा

MRITYUNJAY CHAUDHARY, Last updated: Mon, 15th Nov 2021, 4:57 PM IST
  • मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सोमवार को कहा कि छत्तीसगढ़ में छोटे बच्चो के लिए बालवाड़ी बनाई जाएगी. साथ ही यह भी बताया कि छत्तीसगढ़ के सरकारी स्कूल अंतर्राष्ट्रीय मानक के अनुसार संचालित होंगे. जिससे बच्चो को गुणवत्तापूर्वक शिक्षा प्रदान किया जा सके.
भूपेश सरकार बच्चों के लिए खोलेगी बालवाड़ी, देगी अंतर्राष्ट्रीय मानक आधारित शिक्षा (PTI)

रायपुर. छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने घोषणा किया कि राज्य सरकार तीन साल से अधिक उम्र वाले बच्चों के लिर बालवाड़ी बनाएगी. इसके साथ ही सीएम बघेल ने बताया कि छत्तीसगढ़ के सरकारी विद्यालयों में अंतरराष्ट्रीय मानक के अनुसार शिक्षा दिया जाएगा. साथ ही सभी सरकारी स्कूलों को अंतरराष्ट्रीय मानक के आधार पर ही संचालित किया जाएगा. साथ ही सीएम भूपेश ने आगे बताया कि सरकारी स्कूलों को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इसलिए संचालित किया जाएगा ताकि बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मुहैया कराई जा सके. 

मुख्यमंत्री बघेल ने छत्तीसगढ़ विद्यालय शिक्षा दृष्टि दस्तावेज 2030 की घोषणा देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की जयंती के अवसर पर आयोजित दो दिवसीय जवाहरलाल नेहरू राष्ट्रीय शिक्षा समागम के उद्घाटन समारोह में किया.  सीएम बघेल ने कहा कि स्वामी आत्मानंद सरकारी अंग्रेजी माध्यम विद्यालयों की तर्ज पर राज्य के सरकारी विद्यालयों को अंतरराष्ट्रीय मानक अनुसार संचालित किया जाएगा. ताकि बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मुहैया कराया जा सके. साथ ही यह भी कहा कि राज्य में अंतरराष्ट्रीय स्तर के विद्यालय होना चाहिए जिससे राज्य के बच्चे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी चमक बिखेर सके. साथ ही राज्य को भी गौरवान्वित कर सकें. 

छत्तीसगढ़ में लगातार बढ़ रही किडनी रोगियों की तादाद, 10 जिलों में खुलेंगे डायलिसिस केंद्र

बता दें कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सरकार के 2020 में एसएजीईएस योजना की शुरुआत किया था. इस योजना के तहत छत्तीसगढ़ सरकार राज्य के सरकारी हिंदी माध्यम के सरकारी स्कूलों को अंग्रेजी मीडियम के आधुनिक स्कूलों में बदलने की योजना शुरू किया था. जिसके तहत छत्तीसगढ़ सरकार ने राज्य के 171 स्कूलों का संचालन किया जा रहा है. जिससे बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा दी जा रही है.

अन्य खबरें