कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद की किताब पर बवाल, BJP ने कहा- हिंदुओं की तुलना आतंकी

Anurag Gupta1, Last updated: Sun, 14th Nov 2021, 11:13 AM IST
  • रायपुर में भाजपा नेताओं ने सलमान खुर्शीद की किताब सनराइज ओवर अयोध्या पुस्तक को लेकर सिविल लाइन थाने में आपत्ति दर्ज कराई है. भाजपाइओं का कहना इस किताब में हिंदुओं की तुलना आतंकी संगठनों से की गई है. इस किताब से हिंदुओं की भावना को ठेस पहुंचाई गई है.
सलमान खुर्शीद (फाइल फोटो)

रायपुर. पूर्व केंद्रीय मंत्री व कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद की किताब "सनराइज ओवर अयोध्या" पर विवाद अभी जारी है. हिंदु संगठन से जुड़े लोग उसे विवादित किताब बता रहे हैं. कहा जा रहा है उस किताब से हिंदु धर्म की भावनाओं का आहत पहुंचा है. छत्तीसगढ़ भाजपा के शीर्ष नेतृत्व ने कांग्रेस पर हमला बोला और भाजपा नेता व कार्यकर्ताओं ने रायपुर के सिविल लाइन थाने पहुंचकर पुस्तक को लेकर आपत्ति दर्ज कराई है. भाजपा नेताओं ने सलमान खुर्शीद सहित पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह व पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदंबरम के खिलाफ भी अपराध दर्ज करने की मांग पुलिस प्रशासन से की है. संगठनों का कहना है कि इस किताब में लिखि हुई लाइनों से हिंदु धर्म की भावना को ठेस पहुंची है.

किताब के आने के बाद ही इस पर विवाद शुरू हो गया है. कई जगहों पर इसे न बिकने देने की मांग की गई है. बता दें थाने में शिकायत करने पूर्व मंत्री व विधायक बृजमोहन अग्रवाल, विधायक अजय चंद्राकर, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष प्रेमप्रकाश पांडेय, राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम, विधायक शिवरतन शर्मा सहित कई भाजपा नेता पहुंचे थे.

छत्तीसगढ़ में मिड डे मील की राशि पहुचेंगी बच्चों के खातों में, कोरोना काल में लिया गया था निर्णय

किताब में हिंदुओं की तुलना आतंकी संगठन से की गई है:

भाजपा के वरिष्ठ नेता प्रेमप्रकाश पांडेय ने कहा कि सलमान खुर्शीद द्वारा लिखी गई किताब में हिन्दुओं की तुलना आतंकी संगठन से की गई है, जो बेहद आपत्तिजनक है. पुस्तक में हिन्दुओं के प्रति अपमानजनक टिप्पणी की गई है. उन्होंने कहा कि खुर्शीद की किताब धार्मिक भावनाओं को आहत करने वाली है. हमने पुलिस प्रशासन में शिकायत कर अपराध दर्ज करने की मांग की है.

एमपी में नहीं बिकने देंगे:

इसके पहले सलमान खुर्शीद की किताब "सनराइज ओवर अयोध्या" पर मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा किताब पर प्रतिबंध लगाने की बात कही थी. उन्होंने कहा था कि ‘मैं मध्यप्रदेश के कानून विशेषज्ञों से राय कराऊंगा और मध्य प्रदेश में इस किताब को बैन कराएंगे.’

अन्य खबरें