छत्तीसगढ़ में हाथी ने SP और उनकी पत्नी पर हमला किया, बल-बाल बची जान

Nawab Ali, Last updated: Thu, 4th Nov 2021, 7:05 AM IST
  • छत्तीसगढ़ के गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिले के एसपी और उनकी पत्नी पर आमरू जंगल में हाथियों के झुंड से एक हथनी ने हमला कर दिया. हथनी के हमले से बचने के लिए दोनों जैसे भागे तो जामीन पर गिर गये और एसपी के सिर में चोटें आई हैं. आईजी बिलासपुर रेंज का कहना है कि एसपी खतरे से बाहर हैं.
आमरू जंगल में हथनी ने एसपी और उनकी पत्नी पर हमला किया. फाइल फोटो

रायपुर. छत्तीसगढ़ के गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिले के पुलिस अधीक्षक और उनकी पत्नी पर बुधवार को एक हाथीयों के झुंड से हथनी ने हमला कर दिया. एसपी और उनकी पत्नी ने हथनी से बचने की कोशिश की तो दोनों जमीन पर गिरकर घायल हो गए. एसपी त्रिलोक बंसल को हाथियों की आवाजाही की सूचना मिली थी जिसके बाद वो अपनी पत्नी के साथ आमरू जंगल में गए थे. हथनी के हमले में एसपी त्रिलोक बंसल के सिर में मामूली चोट आई है जबकि उनकी पत्नी सुरक्षित है. इस दौरान वनकर्मी और ग्रामीण भी मौके पर मौजूद थे.

छत्तीसगढ़ के गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिले के एसपी और उनकी पत्नी पर हथनी ने हमला कर दिया जिस कारण एसपी त्रिलोक बंसल को मामूली सी चोट आई हैं. वही उनकी पत्नी पूरी तरह से सुरक्षित है. आईजी बिलासपुर रेंज रतनलाल डांगी का कहना है कि 2026 बैच के आईपीएस त्रिलोक बंसल अपनी पत्नी के साथ सूचना मिलने पर आमरू जंगल में गए थे. जहां पर हाथियों के झुण्ड से एक हथिनी ने उनकी तरफ बढ़ते हुए हमला करने की कोशिश की. हमले से बचते हुए दोनों जमीन पर गिर पड़े.

छत्तीसगढ़: दिवाली पर किसानों को 1500 करोड़ का तोहफा, गोबर बेचने वालों की हुई 10 करोड़ कमाई

इस हमले के वक्त स्थानीय लोग और वनकर्मी भी मौके पर मौजूद थे. हथनी ने जैसे ही हमला किया वहां मौजूद लोगों ने चिल्लाना शुरू कर दिया जिसके बाद हथनी दूसरी दिशा में चली गई. आईजी का कहना है कि त्रिलोक के सिर में मामूली चोटें आई, जबकि उनकी पत्नी सुरक्षित थी। वन कर्मियों द्वारा दोनों को बचाया गया और जिला अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया. जिला कलेक्टर नर्मरता गांधी ने कहा कि एसपी और उनकी पत्नी दोनों खतरे से बाहर हैं.

 

अन्य खबरें