बीजेपी नेता युद्धवीर सिंह जूदेव और राजिन्दर पाल सिंह भाटिया के निधन पर भाजपा नेताओं ने दी भावभीनी श्रद्धांजलि

Somya Sri, Last updated: Mon, 20th Sep 2021, 1:41 PM IST
  • भारतीय जनता पार्टी के नेता और प्रदेश के पूर्व संसदीय सचिव युद्धवीर सिंह जूदेव और पूर्व मंत्री राजिन्दर पाल सिंह भाटिया के निधन पर बीजेपी के नेताओं ने भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की है.
बीजेपी नेता युद्धवीर सिंह जूदेव और राजिन्दर पाल सिंह भाटिया के निधन पर भाजपा नेताओं ने दी भावभीनी श्रद्धांजलि (फाइल फोटो)

रायपुर: भारतीय जनता पार्टी के नेता और प्रदेश के पूर्व संसदीय सचिव युद्धवीर सिंह जूदेव और पूर्व मंत्री राजिन्दर पाल सिंह भाटिया के निधन पर बीजेपी के नेताओं ने भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की है. भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने स्व. जूदेव और स्व. भाटिया को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उनके निधन को पार्टी संगठन और क्षेत्र की अपूरणीय क्षति बताया है.

वहीं भाजपा प्रदेश प्रभारी और सांसद डी. पुरंदेश्वरी ने श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि, " प्रदेश और संगठन हित में उनके द्वारा किए गए कार्यों के लिए भाजपा के दोनों दिवंगत नेताओं की भूमिका को कभी विस्मृत नहीं किया जा सकता." भाजपा के राष्ट्रीय सह-संगठन मंत्री शिवप्रकाश ने भी स्व. जूदेव और स्व. भाटिया को श्रद्धांजलि अर्पित कर छत्तीसगढ़ में उनके मुखर नेतृत्व को याद किया. भाजपा के प्रदेश सह-प्रभारी नितिन नवीन और छत्तीसगढ़ भाजपा के संगठन महामंत्री पवन साय ने स्व. जूदेव व स्व. भाटिया की अपने क्षेत्रों के विकास और संगठन के कार्य विस्तार में उल्लेखनीय भूमिका को याद कर अपनी गहन संवेदना व्यक्त की. भाजपा-परिवार ने स्व. युद्धवीर सिंह जूदेव और स्व. राजिन्दर पाल सिंह भाटिया की आत्मा की चिरशांति और शोकाकुल परिजनों को यह गहन दु:ख सहने की शक्ति प्रदान करने के लिए परमपिता परमेश्वर से प्रार्थना की.

बीजेपी नेता और छत्तीसगढ़ के पूर्व मंत्री रजिंदरपाल सिंह भाटिया ने घर के पंखे से लटक कर किया सुसाइड

बता दें कि छत्तीसगढ़ के पूर्व परिवहन मंत्री रजिंदरपाल सिंह भाटिया ने अपने घर में पंखे से लटक कर आत्महत्या कर ली. खुदकुशी के पीछे की वजह क्या है फिलहाल इसका पता नहीं चल पाया है. पुलिस मामले की जांच कर रही है. वहीं बीजेपी नेता युद्धवीर सिंह जूदेव करीब एक महीनें से लीवर संक्रमण की गंभीर बीमारी से जूझ रहे थे. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बैंगलुरू के एस्टर हास्पिटल में उन्होंने आखिरी सांस ली.

अन्य खबरें