सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहीं विधवा महिलाओं ने की आत्मदाह की कोशिश

Ankul Kaushik, Last updated: Fri, 10th Sep 2021, 4:31 PM IST
  • अनुकंपा नियुक्ति की मांग को लेकर छत्तीसगढ़ सरकार के खिलाफ 51 दिनों से धरने पर बैठीं विधवा महिलाओं ने खुद को जिंदा जलाने की कोशिश की. हालांकि वहां मौजूद पुलिस ने महिलाओं को आत्मदाह करने से रोक लिया.
रायपुर में विधवा महिलाओं ने की आत्मदाह की कोशिश

रायपुर. करीब दो महीने से छतीसगढ़ सरकार के खिलाफ दिवंगत शिक्षकों की विधवा महिलाएं अनुकंपा नियुक्ति की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रही हैं. वहीं तीज के दौरान इनमें से दो महिलाओं ने आत्मदाह करने की कोशिश की. वहीं घटना स्थल पर मौजूद पुलिस कर्मियों ने महिलाओं को खुद को जिंदा जलाने से रोका. इस दौरान महिलाओं और पुलिस के बीच काफी झड़प हुई लेकिन पुलिस इन्हें रोकने में सफल रही. हैरानी की बात ये है कि तीज त्यौहार को लेकर छत्तीसगढ़ की अपनी अलग संस्कृति है लेकिन इन महिलाओं ने इस दिन भी अपना प्रदर्शन जारी रखा. प्रदर्शन कर रहीं महिलाओं ने कहा कि सरकार जल्द से जल्द इस मामले पर फैसला ले. क्योंकि अनुकम्पा नियुक्ति को लेकर दिवंगत शिक्षकों की विधवा महिलाएं काफी दिनों से विरोध प्रदर्शन कर रही हैं.

रायपुर में प्रदेश भर से आई हुई विधवा महिलाएं अनुकंपा नियुक्ति की मांग को लेकर आन्दोलन कर रही हैं. प्रदर्शन कर रही महिलाओं ने कहा कि सराकर इस मामले पर सुनावाई करने को तैयार नहीं है क्योंकि हमें कभी विभाग की कमी की तो कभी फंड की कमी बताकर अनुकम्पा नियुक्ति नहीं मिल रही है.

SC के सामने आत्मदाह करने वाली रेप पीड़िता के गवाह सत्यम प्रकाश की मौत, बसपा MP पर हैं आरोप

इस पूरे मामले में अनुकंपा नियुक्ति की मांग को लेकर प्रदर्शन करने वाली महिलाओं में से अश्वनी सोनवानी ने कहा कि साल 2006 से यह मामला लंबित है. इस मामले को लेकर प्रदेश के कई शहरों से महिलाएं इस आंदोलन में शामिल होने के लिए आ रही हैं. वहीं गुरुवार को दो महिलाओं ने आत्मदाह करने की भी कोशिश की लेकिन सरकार ने अभी भी कुछ नहीं सुना है. अब प्रदर्शन करने वाली महिलाओं ने ठान लिया है कि जब तक उनकी मांगें पूरी नहीं होंगी तब तक ये आन्दोलन जारी रहेगा.