हॉर्स ट्रेडिंग केस में पूर्व CM रघुवर की बढ़ेंगी मुश्किलें! ACB कोर्ट में सुनवाई

Smart News Team, Last updated: Thu, 10th Jun 2021, 2:35 PM IST
  • हॉर्स ट्रेडिंग मामले में झारखंड पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास की मुश्किलें बढ़ सकती हैं. हाईकोर्ट ने करप्शन एक्ट जोड़ने की सुनवाई एंटी करप्शन ब्यूरो कोर्ट में ट्रांसफर कर दी है.  
हॉर्स ट्रेडिंग केस में करप्शन एक्ट लगने पर अब सुनवाई एसीबी कोर्ट में होगी.

रांची. हॉर्स ट्रेडिंग केस में पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास, पूर्व एडीजी अनुराग गुप्ता और मुख्यमंत्री के प्रेस सलाहकार अजय कुमार की मुश्किलें अब बढ़ सकती हैं. पीसी एक्ट जोड़ने की सुनवाई पूरी होने के बाद मामले को एंटी करप्शन ब्यूरो कोर्ट में ट्रांसफर कर दिया गया है. तीनों आरोपियों के खिलाफ पीसी एक्ट जोड़ने की सुनवाई अब एसीबी कोर्ट में होगी. 

प्रथम श्रेणी के न्यायिक दंडाधिकारी अनुज कुमार की अदालत में पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास, उनके प्रेस सलाहकार और पूर्व एडीजी के खिलाफ दर्ज एफआईआर में पीसी एक्ट जोड़ने का आवेदन किया गया था. कोर्ट ने इसे गुरुवार को एसीबी कोर्ट में ट्रांसफर कर दिया है. 

गौरतलब है कि 2 जून को जांच कर रहे अधिकारी ने पीसी एक्ट जोड़ने का आवेदन न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में किया था. अदालत ने 7 जून को दोनों पक्षों की दलीलें सुनी थी जिसके बाद फैसले को सुरक्षित रख लिया गया था. 10 जून को अदालत ने आगे की सुनवाई एसीबी कोर्ट के लिए ट्रांसफर कर दी है.   

रांची: स्कूटी सवार बदमाशों ने सिक्योरिटी गार्ड को मारी गोली, रिम्स में भर्ती, हमलावर फरार 

राज्यसभा चुनाव 2016 में एक राजनीतिक दल के पक्ष में खड़े प्रत्याशी के पक्ष में वोट करने के लिए बड़कागांव की तत्कालीन विधायक निर्मला देवी को लालच दिया गया था. यही नहीं उनके पति और पूर्व मंत्री योगेंद्र साव को धमकी दी गई थी. इस मामले की शिकायत 2018 में जगन्नाथपुर थाने में की गई थी. जांच के बाद आईओ ने पीसी एक्ट जोड़ने का आवेदन कोर्ट में किया था.

अन्य खबरें