आशा लाकड़ा ने कहा, आदिवासी क्षेत्र में 750 एकलव्य विद्यालय खोले जाएंगे, होगा लाभ

Smart News Team, Last updated: 02/02/2021 10:34 PM IST
  • मेयर आशा लाकड़ा ने वित्त मंत्री की ओर से पेश किए आम बजट की प्रशंसा करते हुए कहा कि बजट जन कल्याणकारी है स्वच्छ भारत मिशन के तहत आगामी पांच वर्षों के लिए 1,41,678 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है. कोरोना-19 टीकाकरण के लिए वित्तीय वर्ष 2021-22 में 35,000 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है.
फाइल फोटो

रांची. रांची की मेयर आशा लाकड़ा ने आम बजट की काफी प्रशंसा की है. उन्होंने कहा है कि मोदी सरकार के इस बजट में सभी वर्गों का ध्यान रखा गया है, जो बताता है कि बजट जनकल्याणकारी है. केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा पेश किए बजट में शहरी क्षेत्र में सार्वजनिक परिवहन को बेहतर बनाने के लिए 18,000 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है. इसके अलावा आदिवासी क्षेत्रों में 750 एकलव्य विद्यालय खोलने की घोषणा की गई है, जिससे झारखंड राज्य विशेष तौर पर लाभान्वित होगा.

एक करोड़ लाभार्थी को जोड़ा जाएगा: आशा लाकड़ा कहा कि बजट में अब उज्ज्वला योजना अंतर्गत 1 करोड़ लाभार्थियों को जोड़ा जाएगा. 4378 स्थानीय निकायों के लिए 2.87 लाख करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है. साथ ही जल जीवन मिशन योजना पर फोकस किया गया है. बजट जन कल्याणकारी है. इससे आम लोगों का हित होगा. 

रांची: 20 करोड़ की लागत से बना बूचड़खाना दो साल बाद फिर से शुरू होगा, जानें फायदे

इसके अलावा स्वच्छ भारत मिशन के तहत आगामी पांच वर्षों के लिए 1,41,678 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है. कोरोना-19 टीकाकरण के लिए वित्तीय वर्ष 2021-22 में 35,000 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है. किसानों को ध्यान में रखते हुए अब न्यूनतम समर्थन मूल्य डेढ़ गुना किया गया है. इसके लिए 75,000 करोड़ का प्रावधान किया गया है. बजट में सभी वर्गों के कल्याण और विकास योजनाओं का ध्यान रखा गया है.

अन्य खबरें