रांची: अफसर ने हड़पा बच्चों का निवाला, जांच रिपोर्ट में सामने आया बड़ा घोटाला

Smart News Team, Last updated: Mon, 11th Jan 2021, 8:22 AM IST
  • रांची के एक अधिकारी ने छोटे बच्च्चों को दिए जाने वाला मिड डे मील के 451 क्विंटल चावल का घोटाला किया है. जिसकी जानकरी तब हुई जब डीईईओ ने प्राथमिक शिक्षा निदेशक को अपनी जांच रिपोर्ट सौंपी.
अफसर ने हड़पा बच्चों का निवाला, जांच रिपोर्ट में सामने आया बड़ा घोटाला

रांची. झारखंड की राजधानी रांची में एक अधिकारी ने मिड डे मील के 451 क्विंटल चावल का गबन किया है. इतना ही नहीं उसने इसे घोटाले को अंजाम देने के लिए कई स्कूलों के प्रधानाचार्यों के फर्जी हस्ताक्षर करके इतनी बड़ी मात्रा में चावल का गबन किया है. इसका खुलासा तब हुआ जब डीईओ ने प्राथमिक शिक्षा निदेशक को अपनी जांच रिपोर्ट सौंपी. यह मामला रायगढ़ के पतरातू टू प्रखंड के है. जहां के तत्कालीन बीईईओ राजेंद्र प्रसाद शर्मा ने इस गबन को किया है.

जानकारी के अनुसार राजेन्द्र प्रसाद शर्मा ने एक दो दिन नहीं बल्कि पूरे नौ महीने के राशन का गबन किया है. उन्होंने ने पिछले साल जनवरी से लेकर सितम्बर 2020 तक करीब 451.76 क्विंटल चावल का घोटाला किया है. जांच में पता चला है कि उस दौरान कुल 12 स्कूल को अतिरिक्त चावल दिया गया था. जिसमे से 4 स्कूलों ने इस अतिरिक्त चावल का उठाव किया. वहीं बाकी के 8 स्कूलों ने नहीं किया है, लेकिन इन 8 स्कूलों के प्रधानाचार्यों के फर्जी हस्ताक्षर करके इस चावल का उठाव दिखाया गया है. जिसकी जानकारी इन स्कूलों के प्रधानाध्यापकों से पूछताछ के बाद चली.

सोरेन सरकार ऑनलाइन रखेगी अफसरों पर नजर, बनाएगी राइट टू सर्विस गारंटी का पोर्टल

वहीं जब इससे सम्बंधित रजिस्टर की जांच की गई तो उसमे ओवर राइटिंग के साथ और भी अन्य बदलाव देखें गए. साथ ही भोजन के कंप्यूटर ऑपरेटर ने लिखित रूप में बताया हैं की राजेन्द्र प्रसाद शर्मा स्वयं चावल वितरण पंजी का रख रखाव करते थे और सभी स्कूलों को चावल वितरण उनके सामने ही किया जाता था. वैसे अभी वह किसी दूसरे मामले में निलंबित चल रहे है. साथ ही वह 31 जनवरी को सेवानिवृत्त भी होने वाले है.

युवती के साथ दुष्कर्म कर दरिंदों ने की हत्या, पुलिस ने जांच में दिखाई लापरवाही

अन्य खबरें