झारखंड में उग्रवादी सगठनों पर NIA का शिंकजा, कई उग्रवादियों पर लाखों का ईनाम

Smart News Team, Last updated: Tue, 17th Nov 2020, 8:15 PM IST
  • झारखंड में केंद्रीय जांच एजेंसी एनआईए ने उग्रवादी संगठन पर शिंकजा कसा लिया है. एनआईए ने माओवादियों पर लाखो का इनाम रखा है.
झारखंड में जांच एजेंसी एनआईए ने माओवादी संगठनों पर शिंकजा कसा है.

झारखड़: केंद्रीय जांच एजेंसी एनआईए ने झारखंड के उग्रवादी संगठनों पर शिकंजा कसना शुरु कर दिया है. जिसके लिए इलाकों में जांच अभियान चलाया जा रहा है. जांच एजेंसी ने जदयू नेता व पूर्व मंत्री के हत्यारोपी पतिराम मांझी उर्फ अनल समेत अन्य माओवादियों पर ईनाम घोषित किया है. एजेंसी ने उग्रवादियों पर एक से दस लाख तक का इनाम घोषित किया गया है. कुछ समय पहले एनआईए ने कुछ उग्रवादियों को फरार घोषित किया था. झारखंड में ऐसा पहली बार हुआ है जब राज्य में सक्रिय उग्रवादी संगठन के प्रमुख चेहरों पर एनआईए ने इनाम घोषित किया है. इससे पहले राज्य सरकार ने भी पूर्व में इनाम घोषित कर रखा है.

किस-किस पर कितना ईनाम

झारखंड राज्य सरकार के पूर्व मंत्री रमेश सिंह मुंडा की हत्या में फरार चल रहे पतिराम मांझी पर एनआईए ने पांच लाख का ईनाम रखा है. वहीं भाकपा माओवादी पतिराम पर राज्य सरकार ने पहले ही एक करोड़ का ईनाम घोषित कर रखा है. वहीं दूसरी ओर पीएलएफआई टेरर फंडिग केस में फरार चल रहे दिनेश गोप पर भी पांच लाख का ईनाम रखा गया है. जबकि राज्य सरकार ने पहले ही दिनेश गोप पर 25 लाख का इनाम घोषित कर रखा है. वही ब्रजेश गंझू उर्फ गोपाल सिंह भोक्ता पर पांच लाख, टीपीसी कमांडर आक्रमण जी पर तीन लाख, अजय महतो पर तीन लाख, चंचल पर दो लाख, कृष्णा दा पर दो लाख जबकि सिंगराई सोरेन और शनिचर हेंब्रम पर 50- 50 हजार का ईनाम रखा गया है.

सोरेन सरकार के नदी-तालाब में छठ पर रोक के खिलाफ जल आंदोलन, संशोधन करने की मांग

 

एनआईए को तलाश

उग्रवादी संगठनों के नेता भी अलग-अलग केसों में एनआईए की निगाह में हैं. भाकपा माओवादियों के पोलित ब्यूरो सदस्य प्रशांत बोस, प्रयाग मांझी, टीपीसी के भीखन गंझू, मुकेश गंझू, नागेश्वर गंझू एनआईए लगातार तलाश कर रही है. एनआईए के द्वारा ताजा केस दर्ज किए हैं, उससें रवींद्र गंझू का गैंग की तलाश की जा रही है. चार पुलिसकर्मियों की हत्या व उसके बाद लातेहार के चंदवा के टेरर फंडिंग के मामले में रवींद्र गंझू का दस्ता एनआईए के निशाने पर है.

रांची सांसद का हमला- कांग्रेस के इशारे पर हो रहा तुष्टिकरण, छठ को बनाया निशाना

आदिवासी सरना कोड पर CM हेमंत बोले- जनगणना 2021 में शामिल कराने की लड़ाई बाकी

अन्य खबरें