कोरोना में अनाथ हुए बच्चों का ध्यान रखेगी सोरेन सरकार, चाइल्ड केयर हेल्पलाइन जारी

Smart News Team, Last updated: Thu, 13th May 2021, 10:28 PM IST
  • झारखंड में कोविड से अपने माता-पिता को खोने वाले बच्चों का ध्यान सोरेन सरकार रखेगी. सीएम हेमंत सोरेन के निर्देश के बाद झारखंड के कई जिलों में चाइल्ड केयर हेल्प लाइन जारी कर दी गई है. रांची जिला प्रशासन ने इसके लिए व्हाट्सएप नंबर भी जारी किया है.
झारखंड में सोरेन सरकार कोरोना से अपने माता-पिता को खोने वाले बच्चों का ध्यान रखेगी.

राँची. झारखंड की सोरेन सरकार कोरोना वायरस से अनाथ हुए बच्चों का ध्यान रखेगी. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के निर्देश के बाद रांची समेत झारखंड के कई जिलों में चाइल्ड केयर हेल्प लाइन जारी कर दी है. ये हेल्पलाइन अनाथ बच्चों की मदद तो करेगी ही साथ-साथ उन बच्चों की भी अस्थायी सहायता करेगी जिनके माता-पिता अस्पताल में भर्ती हैं.

मिली जानकारी के अनुसार, जिला कल्याण पदाधिकारी इस चाइल्ड केयर हेल्पलाइन की निगरानी करेंगे. ऐसे मामलों को देखने और सहायता करने के लिए एक टीम गठित की गई है. कोविड से अनाथ हुए बच्चों की सूचना हेल्पलाइन नंबर 181 और टोल फ्री नंबर 1098 पर दी जा सकती है. इसके अलावा रांची जिला प्रशासन ने 878983344 व्हाट्सएप नंबर भी जारी किया है. 

झारखंड में 14 मई से 18 से ऊपर वालों को लगेगी कोरोना वैक्सीन, जानें कैसे करे रजिस्ट्रेशन

प्रशासन ने लोगों से अपील की है कि ऐसे बच्चों की जानकारी सार्वजनिक न करें और सीधे हेल्पलाइन को रिपोर्ट करें. इसके अलावा ये हेल्पलाइन उन बच्चों की भी अस्थायी रूप से मदद करेगी, जिनका माता-पिता का अस्पताल में इलाज चल रहा है. यदि अनाथ हुए बच्चों के परिवार में कोई उनकी देखभाल करने के लिए राजी होता है तो उनको प्रोत्साहन के रूप में हर महीने कुछ पैसे दिए जाएंगे. सरकार की कोशिश है कि कोविड की वजह से जिन बच्चों ने अपने माता-पिता को खोया है, वे शोषण या बाल तस्करी में न फंसे.

कोरोना इलाज के अस्पताल ने ज्यादा पैसे मांगे तो खैर नहीं, इस नंबर पर करें शिकायत

प्रदेश में कोरोना से हालात खराब है. झारखंड में बीते 24 घंटे में कोरोना वायरस के 4 हजार 362 नए मामले सामने आए हैं. वहीं 8 हजार 331 लोग पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं. झारखंड में पिछले 24 घंटे में कोविड से 97 लोगों की मौत हो चुकी है.

 

अन्य खबरें