झारखंड विधानसभा में बोले CM सोरेन- ‘विस्थापितों के लिए बेहतर विकल्प तलाशेंगे’

Smart News Team, Last updated: Tue, 9th Mar 2021, 11:36 AM IST
  • झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन ने कहा कि सरकार विस्थापितों के लिए बेहतर विकल्प तलाशेगी. उन्होंने कहा कि जरूरत पड़ने पर झारखंड में विस्थापन और पुनर्वास आयोग का गठन किया जाएगा.
झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन

रांची: विधानसभा में बोलते हुए झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन ने कहा कि सरकार विस्थापितों के लिए बेहतर विकल्प तलाशेगी. उन्होंने कहा कि जरूरत पड़ने पर झारखंड में विस्थापन और पुनर्वास आयोग का गठन किया जाएगा. उन्होंने कहा कि हमारी सरकार आगे भी विस्थापितों को अधिग्रहित जमीन को वापस कराने का काम जारी रखेगी.

सदन में बोलते हुए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि विस्थापन पूरे राज्य का मुद्दा है. इस समस्या के निवारण के लिए सरकार बेहतर फैसला लेगी. उन्होंने कहा कि राज्य में रिजर्व वायर, बोकारो स्टील सिटी और तमाम उद्योगों के लिए हुए भूमि अधिग्रहण से विस्थापित लोगों की समस्या अभी बरकरार है. विस्थापितों को जमीन वापस कराने की प्रक्रिया आगे भी चलती रहेगी.

RJD सुप्रीमो लालू यादव की सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मी ले गए RIMS का गद्दा,तकिया

हेमंत सोरेन से पहले मांडर विधायक बंधु तिर्की ने सदन में सवाल करते हुए कहा था कि एचईसी के लिए 32 गांवों की 9200 एकड़ जमीन अधिग्रहित किए जाने के बाद पुर्नवास के नाम पर केवल 10 से 15 डिसमिल जमीन ही विस्थापितों को दी गई. उन्हें जमीन का पट्टा न देने के कारण उनकी रसीद नहीं काटी जा रही है. इस वजह से जाति, आय, आवास जैसे जरूरी प्रमाण पत्र न बनने से अभ्यर्थियों को प्रतियोगी परीक्षाओं में आवेदन करने में परेशानी हो रही है.

रांची:होमगार्ड के जवान वर्दी में आम जनता के जूते पॉलिश कर जताएंगे सरकार का विरोध

बंधु तिर्की के इस सवाल पर विधायक प्रदीप यादव, ढुल्लु महतो और बीजेपी विधायक सीपी सिंह सहित अन्य ने सीएम हेमंत सोरेन से सदन में जवाब देने की मांग की थी.

 

अन्य खबरें