रांची में लगातार तीसरे दिन हुई झमाझम बारिश , आम-जनजीवन अस्त व्यस्त

Mithilesh Kumar Patel, Last updated: Fri, 1st Oct 2021, 1:52 PM IST
  • रांची समेत झारखंड के कई जिलों में शुक्रवार को भी झमाझम बारिश जारी रही. बुधवार रात से लगातार हो रही  बारिश ने सूबे के कई जिलों में आम-जनजीवन बुरी तरह प्रभावित किया है. 
प्रतीकात्मक फोटो

रांची. रांची समेत झारखंड के कई जिलों में लगातार तीन दिनों से रुक-रुक कर व भारी बारिश ने आम जनजीवन बेहाल कर दिया है बुधवार रात से तेज हवाओं के साथ शुरू हुई इस बारीश ने सूबे के कई गावों और शहरी की सड़को को कीचड़ में तब्दील कर दिया है. बंगाल में उठे साइक्लोनिक सर्कुलेशन सिस्टम को झारखंड में आते-आते लो प्रेसर सिस्टम सक्रिय बतायी जा रही है यही कारण है कि सूबे के कई हिस्सों में कहीं रूक-रूक तो कहीं भारी बारिश हो रही है. 

रांची स्थित मौसम केंद्र के उपनिदेशक व वैज्ञानिक अभिषेक आनंद ने बताया कि अभी आने वाले चार दिन तक कमोवेश झारखंड में बारिश होती रहेगी. शनिवार से बारिश की मात्रा में गिरावट और उसके फैलाव में कमी आने की संभावना है. आगे वैज्ञानिक आनंद ने बताया कि शुक्रवार को झारखंड के ऊपर केंद्रित लो प्रेशर सिस्टम उत्तरी भाग से होते हुए बिहार की ओर बढ़ जाएगा. और फिर बिहार से यह सिस्टम उत्तर प्रदेश की ओर चला जाएगा.

झारखंड के लातेहर, चतरा, देवघर, जामतारा, गिरिडीह समेत इन इलाकों में भारी बारिश की चेतावनी

बंगाल की खाड़ी से नमी खींचने के कारण झारखंड के कई जिलों में रुक-रुक कर बारिश हो रही है. बताया जा रहा है कि आने वाले चार-पांच दिनों में बिहार के रास्ते उत्तर प्रदेश की तरफ जाने वाली ये लो प्रेशर सिस्टम वापस झारखंड की ओर आएगा.  इसके बाद फिर से सूबे में झमाझम बारिश होने की लगेगी. मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक शनिवार से झारखंड के कई इलाको मों हो रही बारिश में 50 फीसदी तक कमी आ जाएगी. इसके बाद सूबे में धीरे-धीरे मौसम साफ होने लगेगा.

किसानों के लिहाज से देखें तो ये बेमौसम बारिश कुछ फसलो के लिए संजीवनी है मगर सब्जीयों के लिए आंशिक रूप से नुकसानदायक है. लगातार जोरदार बारिश के साथ-साथ चल रही तेज हवा ने धान की फसलों में लग रहे फूलों को खासा नुकसान पहुचाया है. जिस कारण इसकी खेती करने वाले किसानों में मायुसी छाई हुई है.

अन्य खबरें