झारखंड में बढ़ सकता है कोरोना लॉकडाउन, CM सोरेन जल्द लेंगे फैसला

Smart News Team, Last updated: Mon, 24th May 2021, 9:15 PM IST
  • झारखंड में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की अध्यक्षता में सभी मंत्रियों के साथ ऑनलाइन बैठक में अधिकांस मंत्रियों ने लॉकडाउन बढ़ने पर जोर दिया. बताया जरा है की यह लॉकडाउन अगले हफ्ते तक बढ़ाया जा सकता है.
झारखंड में बढ़ सकता है कोरोना लॉकडाउन, CM सोरेन जल्द लेंगे फैसला (फाइल फ़ोटो)

रांची: पूरे देश में फैले कोरोना की रफ्तार अब धीरे धीरे कम हो रही है. जिसको देखते हुए कई राज्य अपने यहां से कोरोना कर्फ्यू धीरे धीरे हटा रहें हैं लेकिन कुछ राज्य ऐसे हैं जहां पर से लॉकडाउन अभी भी प्रभावी है या वहां पर कोरोना कर्फ्यू बढ़ा दिया गाया है. एक ऐसा ही राज्य है, झारखंड जहांपर कोरोना कर्फ्यू को बढ़ाने की बात चल रही है. झारखंड में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की अध्यक्षता में सभी मंत्रियों के साथ ऑनलाइन बैठक में अधिकांस मंत्रियों ने लॉकडाउन बढ़ने पर जोर दिया. बताया जरा है की यह लॉकडाउन अगले हफ्ते तक बढ़ाया जा सकता है.

वहीं मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि राज्य के सभी जिला तथा प्रमंडल अस्पतालों को ऑक्सीजन की सुविधा उपलब्ध कराने का निर्णय राज्य सरकार ने लिया है. राज्य सरकार का आयुष विभाग भी कोरोना किट के माध्यम से दवाइयां उपलब्ध कराने का काम कर रहा है. हम संक्रमण को काबू करने में सक्षम हो रहे हैं. राज्य में पॉजिटिव मरीजों की संख्या में कमी आई है. यह एक सुखद अनुभव है.

CBSE बोर्ड परीक्षा को लेकर CM हेमंत सोरेन का बड़ा बयान, बोले- यह सही समय नहीं

ग्रामीण क्षेत्रों में वैक्सीनेशन पर टारगेट फिक्स किए जाएं: रामेश्वर उरांव

योजना सह वित्त एवं उपभोक्ता मामले के मंत्री रामेश्वर उरांव ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में मुस्तैदी से कार्य किए जाने की आवश्यकता है. ग्रामीण क्षेत्रों में शादी-विवाह में होने वाली भीड़ पर चिंता का विषय है. इसके लिए सख्ती के साथ उन्हें जागरूक करने की जरूरत है.उन्होंने सरकार द्वारा किसानों के धान खरीद को लेकर सुझाव दिए. ग्रामीण क्षेत्रों में वैक्सीनेशन पर टारगेट फिक्स किए जाने तथा राज्य में फिजियोथेरेपी चिकित्सा की व्यवस्था कराए जाने की बात कही.

12वीं बोर्ड परीक्षा को लेकर सीएम हेमंत सोरेन ने छात्रों, परिजनों और टीचरों से मांगी राय

कला और सफेद फंगस को माहामारी घोषित किया जाए : बन्ना गुप्ता

स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा कि स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह को आगे बढ़ाने की जरूरत है. ई-पास की जटिलता को सरल करने के साथ-साथ प्रेस-मीडिया, विभिन्न कंपनियों और सरकारी पदाधिकारियों-कर्मियों को उनके आई कार्ड के आधार पर मूवमेंट की अनुमति दी जानी चाहिए. काला और सफेद फंगस की बीमारी को महामारी घोषित करने की जरूरत है. उन्होंने वैक्सीनेशन का प्रतिशत बढ़ाने और वैक्सीन पोर्टल पर आ रही दिक्कतों को दूर करने पर जोर दिया.

रांची में बुक कर लें कोरोना वैक्सीन के लिए स्लॉट, शनिवार रात 9 बजे से खुला

लॉकडाउन एक हफ्ता और बढ़े : आलमगीर आलम

संसदीय कार्यमंत्री आलमगीर आलम ने कहा कि संक्रमण कम हो रहा है, लेकिन प्रवासी मजदूरों के लौटने के कारण दूसरे क्षेत्रों में संक्रमण को लेकर चिंता है. इनकी शत-प्रतिशत जांच को लेकर काम करने की जरूरत है. इन्हें क्वारंटाइन करने पर विचार हो. लॉकडाउन को एक हफ्ता के लिए बढ़ाया जाना चाहिए. उन्होंने ई-पास से संबंधित गड़बड़ियों को दूर करने का सुझाव भी दिया. ग्रामीण क्षेत्रों में टास्क फोर्स को और सक्रिय करते हुए इसे हर पंचायतों में तेजी से काम करने की जरूरत पर उन्होंने जोर दिया.

रांची जिला प्रशासन ने वरिष्ठ नागरिकों के लिए जारी किया हेल्पलाइन नंबर, घर बैठे मिलेंगी ये सुविधा

कोविड गाइडलाइन के प्रति जागरुकता जरूरी : चंपई सोरेन

परिवहन मंत्री चंपई सोरेन ने कहा कि सरायकेला सहित पूर्वी सिंहभूम के औद्योगिक क्षेत्रों जमशेदपुर, आदित्यपुर में उद्योग प्रभावित नहीं हुए हैं, बल्कि 50 फीसदी मजदूरों को रोटेशन पर काम के लिए बुलाया जा रहा है. इससे आर्थिक गतिविधियां संचालित हो रही हैं. ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना संक्रमण और कोविड गाइडलाइन के प्रति लोगों को जागरूक करने की जरूरत है. राज्य में तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए लॉकडाउन बढ़ाने की जरूरत है.

 

अन्य खबरें