साइबर ठगों ने बदला फ्रॉड का तरीका, मैट्रिमोनियल साइट और डेटिंग ऐप के जरिए बना रहे शिकार

Smart News Team, Last updated: 05/04/2021 01:48 PM IST
  • रांची में महिला डॉक्टर से युवक ने मैट्रिमोनियल साइट्स पर दो लाख रुपये ठग कर दी. महिला ने पुलिस से साइबर ठगी की शिकायत की है. महिला के अनुसार, ठगी करने वाला व्यक्ति अपने आप को एनआरआई बता रहा था. पुलिस मामले की जांच कर रही है.
रांची में महिला डॉक्टर से मैट्रिमोनियल साइट्स पर ठगी.( सांकेतिक फोटो )

रांची: झारखंड में साइबर अपराधियों ने ठगी का एक नया तरीका खोज लिया है. अब साइबर अपराधी ठगी (Cyber Crime) के लिए मैट्रिमोनियल साइट्स ( Matrimonial Sites ) और डेटिंग ऐप ( Dating Apps ) की मदद ले रहे है. बीते कुछ दिनों में राज्य में ठगी के कई मामले सामने आ चुके है. सरकार ने साइबर ठगी से बचने के लिए लोगों को जरुरी दिशा निर्देश दिए है. ताजा मामला रांची से सामने आया है जहां एक महिला डॉकटर ठगी की शिकार हो गई. डॉकटर ने पुलिस से मामले की शिकायत की है.

कुछ दिनों पहले रांची की एक महिला डॉ ने एक चर्चित मैट्रिमोनियल साइट्स पर अपने आप को रजिस्टर्ड कराया था. कुछ दिनों पहले इसी मैट्रिमोनियल साइट्स पर महिला की जान-पहचान एक युवक से हुए. युवक ने अपने आप को एनआरआई( NRI ) बताया था. महिला डॉकटर ने उस युवक पर दो लाख के ठगी करने का आरोप लगाया है. जब पुलिस ने मामले की जांच की तो युवक साइबर ठग निकला. तहरीर के बाद पुलिस युवक की तलाश में जुट गई है.

झारखंड सरकार बेरोजगार युवाओं को हर महीने देगी 5 हजार रुपए, ऐसे करना होगा अप्लाई

साइबर एक्सपर्ट ने बताया, कि वर्तमान समय में मैट्रिमोनियल साइट्स और डेटिंग ऐप की मदद से लोगों के साथ ठगी की जा रही है. साइबर ठग पहले लोगों से दोस्ती करते है, इसके बाद लोगों को ठगी का शिकार बनाते है. साइबर एक्सपर्ट ने कहा, कि यदि आप इस तरह की किसी भी वेबसाइट या ऐप्स का प्रयोग करते है तो सावधान हो जाए. एक्सपर्ट ने कहा, कि ऑनलाइन माध्यम से हुए किसी भी युवक से दोस्ती आपके लिए नुकसान का सौदा हो सकती है. यदि आप संतर्क रहते है, तो इस तरह की फ्रॉड से बचा जा सकता है.

सीसीएल अस्पताल में खत्म हुई कोरोना वैक्सीन, हुआ हंगामा, सेंटर पर लगाना पड़ा ताला

जामताड़ा के पूर्व विधायक विष्णु भैया का निधन, मेडिका अस्पताल में चल रहा था इलाज

अन्य खबरें