DSPMU में कांट्रेक्ट टीचर्स की नियुक्ति में प्रक्रिया का पालन नहीं, जांच करेगी तीन सदस्यों की कमेटी

Prachi Tandon, Last updated: Mon, 13th Sep 2021, 10:12 PM IST
  • डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी यूनिवर्सिटी में कांट्रेक्ट टीचर्स की नियुक्ति को लेकर सवाल उठाए जा रहे हैं. डीएसपीएमयू में अनुबंध शिक्षकों में नियुक्ति प्रक्रिया का पालन नहीं होने की शिकायत की गई है. इसी को देखते हुए जांच के लिए तीन सदस्यों की कमेटी गठित करने का फैसला किया गया है.
अनुबंध शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया में लापरवाही, जांच करेगी टीम

रांची. झारखंड के डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी विश्वविद्यालय में कांट्रेक्ट टीचर्स की नियुक्ति में प्रक्रिया का ठीक से ना पालने करने का मामला सामने आया है. अनुबंध शिक्षकों की नियुक्ति में गड़बड़ी के मामले को देखते हुए सिंडिकेट ने तीन सदस्यों की कमेटी गठित करने का फैसला किया है. तीन सदस्यों की कमेटी कांट्रेक्ट टीचर्स नियुक्ति की जांच करने अपनी रिपोर्ट सौंपेगी. डीएसपीएमयू के वाइस चांसलर डॉ. नितिन मदन कुलकर्णी की अध्यक्षता में सोमवार को सिंडिकेट की बैठक हुई.

डीएसपीएमयू में कांट्रेक्ट टीचर्स की नियुक्ति प्रक्रिया में बरती गई लापरवाही का मुद्दा सिंडिकेट सदस्यों की तरफ से ही उठाया गया था. सिंडिकेट सदस्यों का कहना था कि अनुबंध शिक्षकों की नियुक्ति बिना इंटरव्यू के हुई है. नियुक्ति में लापरवाही के मामले पर वीसी डॉ. कुलकर्णी ने कहा कि कोई भी नियुक्ति प्रक्रिया के तहत आरक्षण रोस्टर का पालन करते हुए की जानी चाहिए. इसके बाद बैठक में निर्णय लिया गया कि तीन सदस्यों की टीम पूरी नियुक्ति प्रक्रिया की जांच करेगी. अगर लापरवाही पाई जाती है तो उस पर एक्शन लिया जाएगा. साथ ही कुलपति ने कहा कि प्रक्रिया के अधीन की गई नियुक्तियां ही मान्य होंगी.  

देवघर एयरपोर्ट में सफल रहा एटीसी कम्युनिकेशन ट्रायल, नजदीकी एयरपोर्ट से किया गया ट्रायल

डीएसपीएमयू के भवन निर्माण कार्य के मुद्दे को भी बैठक में उठाया गया. सिडिंकेट सदस्यों ने इसपर भी जांच की मांग की है. श्यामा प्रसाद मुखर्जी यूनिवर्सिटी के कुलपति ने भवन निर्माण विभाग को चिठ्ठी भेजकर निर्माण कार्य संबंधी जानकारी लेने के लिए कहा है. इसी के साथ वित्त समिति, परचेज कमेटी, परीक्षा बोर्ड के प्रस्तावों को स्वीकृति भी बैठक में दी गई. बैठक में डीएसडब्लयू के डॉ अशोक कुमार महतो, रजिस्ट्रार डॉ नमिता सिंह, डॉ कुनुल कांदिर, डॉ कालिंदी कुमारी, डॉ दिनेश तिर्की, डॉ मोहम्मद अयूब समेत अन्य सदस्य मौजूद थे. 

अन्य खबरें