प्रमोशन के इंतजार में रिटायर हो रहे JPSC के जरिए बहाल पुलिस अधिकारी, जानें वजह

Smart News Team, Last updated: Tue, 8th Jun 2021, 9:56 PM IST
  • सरकार ने यह रोक सभी तरह की प्रोन्नति पर रोक लगा दी थी. लिहाजा, झारखंड पुलिस में प्रमोशन के इंतजार में फिट लिस्ट में शामिल अफसर रिटायर हो रहे हैं. लंबे समय से रोक के कारण राज्य पुलिस के डीएसपी रैंक में प्रमोशन के योग्य पाए गए 36 अधिकारियों में आधा दर्जन से अधिक मई महीने तक रिटायर हो चुके हैं. जबकि इसके अलावा 2-3 अधिकारी जून में रिटायर होंगे.
JPSC से बहाल हुए पुलिस सेवा के DSP स्तर के अधिकारियों को प्रोन्नति का लाभ नहीं मिल पा रहा है.

रांची- झारखंड सरकार ने एससी कर्मियों की प्रोन्नति के मामले में रोक लगा दी थी. सरकार ने यह रोक सभी तरह की प्रोन्नति पर रोक लगा दी थी. लिहाजा, झारखंड पुलिस में प्रमोशन के इंतजार में फिट लिस्ट में शामिल अफसर रिटायर हो रहे हैं. लंबे समय से रोक के कारण राज्य पुलिस के डीएसपी रैंक में प्रमोशन के योग्य पाए गए 36 अधिकारियों में आधा दर्जन से अधिक मई महीने तक रिटायर हो चुके हैं. जबकि इसके अलावा 2-3 अधिकारी जून में रिटायर होंगे.

राज्य पुलिस एसोसिएशन के अध्यक्ष योगेंद्र सिंह ने बताया कि 36 डीएसपी के प्रोन्नति वाले पदों के लिए इंस्पेक्टर स्तर के अधिकारियों की फिट लिस्ट तैयार हुई थी. लेकिन ससमय प्रोन्नति नहीं मिलने के कारण आधा दर्जन अधिकारी रिटायर हो गए. उन्होंने आगे बताया कि रिटायर होने के कारण पुलिस अधिकारियों को वित्तीय लाभ से भी वंचित रहना पड़ेगा.

रांची में मुठभेड़, पीएलएफआई एरिया कमांडर कुंवर सहित छह उग्रवादी गिरफ्तार

बता दें कि झारखंड के गठन के बाद जेपीएससी से बहाल हुए पुलिस सेवा के डीएसपी स्तर के अधिकारियों को प्रोन्नति का लाभ नहीं मिल पा रहा है. आलम यह है कि डीएसपी स्तर के अधिकारियों को सीनियर डीएसपी, एएसपी या एसपी रैंक में प्रोन्नति नहीं मिल पायी है. बता दें कि प्रोन्नति से भरे जाने वाले आईपीएस अधिकारियों के 22 पद खाली हैं. राज्य में प्रोन्नति के जरिए आईपीएस बनाए जाने के कुल 45 पद हैं.

अन्य खबरें