बिहार के पूर्व मंत्री बंदी उरांव का 90 साल की उम्र में निधन

Smart News Team, Last updated: 06/04/2021 04:29 PM IST
  • बंदी उरांव का सोमवार को देर रात निधन हो गया. वे 90 साल के थे और पिछले कुछ दिनों से बीमार चल रहे थे. उनके निधन पर बीजेपी और कांग्रेस के नेताओं के अलावा आदिवासी संगठनों ने भी शोक जताया है.
बंदी उरांव का निधन

रांची: बिहार सरकार में मंत्री रहे बंदी उरांव का सोमवार को देर रात निधन हो गया. वे 90 साल के थे और पिछले कुछ दिनों से बीमार चल रहे थे. उनके निधन पर बीजेपी और कांग्रेस के नेताओं के अलावा आदिवासी संगठनों ने भी शोक जताया है. 4 बार के विधायक और जनजाति आयोग के उपाध्यक्ष के तौर पर बंदी उरांव ने PESA कानून बनाने में अहम भूमिका निभाई.

भारतीय पुलिस सेवा अधिकारी के पद से वीआरएस लेकर सियासत में आने वाले बंदी उरांव पूरी ईमानदारी, योग्यता और कर्तव्यनिष्ठा के बल पर जीवन भर जल, जंगल, जमीन बचाने के लिए संघर्ष करते रहे.

झारखंड में कोरोना मरीज पांच हजार के पार, रांची में बेड की मारामारी

उनके निधन पर केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने ट्वीट किया कि पूर्व IPS अधिकारी, बिहार सरकार में मंत्री रहे और बीजेपी नेता डॉ. अरूण उरांव के पिता बंदी उरांव जी के निधन का दुखद समाचार मिला. आगे उन्होंने लिखा कि बंदी उरांव जी का आदिवासियों के उत्थान में बड़ा योगदान रहा है.

रांची सर्राफा बाजार में सोना चांदी के दामों में हुई बढ़ोतरी, आज का मंडी भाव

वहीं विधायक बंधु तिर्की ने बंदी उरांव के निधन पर शोक जताते हुए कहा कि इसके साथ ही एक युग का अंत हो गया. उधर, झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्‍यक्ष राजेश ठाकुर ने भी शोक व्‍यक्‍त करते हुए कहा कि आज हमने पार्टी का एक मजबूत स्‍तंभ खो दिया.

 

अन्य खबरें