रांची में ठगी गिरोह का सदस्य गिरफ़्तार, सेना में बहाली के नाम पर करता था धोखाधड़ी

Somya Sri, Last updated: Fri, 3rd Sep 2021, 5:00 PM IST
  • सेना में नौकरी दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी करने वाले आरोपी को पुलिस ने रांची के नामकुम थाना क्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस को नामकुम इलाके में धोखाधड़ी करने वाले गिरोह की गोपनीय सूचना मिली थी. गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने छापेमारी की है.
रांची में ठगी गिरोह का सदस्य गिरफ़्तार, सेना में बहाली के नाम पर करता था धोखाधड़ी (प्रतिकात्मक फोटो)

रांची: सेना में नौकरी दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी करने वाले आरोपी को पुलिस ने रांची के नामकुम थाना क्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस को नामकुम इलाके में धोखाधड़ी करने वाले गिरोह की गोपनीय सूचना मिली थी. मिली सूचना के आधार पर पुलिस ने छापेमारी की और धोखाधड़ी करने वाले आरोपी को मौके पर गिरफ्तार कर पूछताछ कर रही है.

नामकुम थाना प्रभारी प्रवीण कुमार ने बताया कि पिछले कई सालों से इस इलाके में सेना में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने का प्रयास किया जा रहा था. इसी गिरोह का पर्दाफाश करने के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही थी. गिरफ्तार संदीप संधू से पुलिस पूछताछ कर रही है. आरोपी से यह जानकारी जुटाने की प्रयास की जा रही है कि इस गिरोह में कितने सदस्य काम कर रहे हैं.

सेना के जवान की थाने में पिटाई मामले में 2 पुलिसकर्मियों पर गिरी गाज, सस्पेंड

बता दें कि हाल हीं में 27 अगस्त 2021 को सेना में बहाली कराने के नाम पर धोखाधड़ी करने वाले एक अन्य आरोपी शौकत अली को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था. शौकत अली नामकुम ओवरब्रिज स्थित मिलिट्री इंजीनियरिग सर्विसएम, आइबी (इंस्पेक्शन बंगलो) के पास रहता था. इस बात की जानकारी सूत्रों के हवाले से आर्मी इंटेलिजेंस 17 कोर नामकुम को मिली. और यह गोपनीय सूचना आर्मी इंटेलिजेंस 17 कोर की टीम ने नामकुम थाने की पुलिस को दे दी थी जिसके बाद पुलिस सक्रिय हुई और मौके पर पहुचकर शौकत अली को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया.

बता दें कि सेना में बहाली के नाम पर धोखाधड़ी करने वाला आरोपी संदीप संधू उत्तर प्रदेश के झांसी जिले का रहने वाला है. वह पिछले कई दिनो से रांची में रह रहा था और सक्रिय सदस्य के रूप में ठगी करनेवाले गिरोह से जुड़ा था.

अन्य खबरें