रांची: राज्यपाल ने लोक अदालत में केस निपटारे के वर्ल्ड रिकॉर्ड पर दी बधाई

Smart News Team, Last updated: 15/12/2020 12:26 AM IST
लोक अदालत द्वारा संविधान दिवस के दिन निपटान किए केस पर बनाए विश्व रिकॉर्ड को लेकर गर्वनर ने बधाई दी. कोर्ट ने राज्य सरकार, बीसीसीएल कर्मियों के सेवा मामलों को वर्चुअली सुनकार हल किया था. 
झारखंड हाईकोर्ट जज ने सर्टिफिकेट से राज्यपाल को कराया अवगत

रांची: सोमवार को लोक अदालत में राज्य सरकार, बीसीसीएल के कर्मियों से जुड़े सेवा मामले के निपटारे पर विश्व रिकॉर्ड स्थापित किए गए पर प्रदेश की गर्वनर द्रौपदी मुर्मू ने सभी को बधाई दी. वहीं, सोमवार को झारखंड उच्च न्यायालय के जज और झालसा के कार्यकारी अध्यक्ष एच सी मिश्रा ने राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू से मुलाकात की. 

इस दौरान उन्होंने गर्वनर को लोक अदालत द्वारा राज्य सरकार, सीसीएल, बीसीसीएल, ईसीएल और एचईसीएल कर्मियों की सेवा से जुड़े मामलों के निपटान पर मिले नेशनल रिकॉर्ड और वर्ल्ड रिकॉर्ड सर्टिफिकेट से भी अवगत करवाया. 

CM हेमंत सोरेन ने कहा-राज्य के किसानों की कृषि उत्पादकता बढ़ाना हमारी प्राथमिकता

संविधान दिवस के अवसर पर लोक अदालत के जरिए करीब 35133 मामलों का निपटान किया गया था. जबकि, लाभार्थी कर्मियों को 1398 करोड़ भी वितरित किए गए थे. वहीं, राज्यपाल ने इस उपलब्धि के लिए झारखंड राज्य विधिक सेवा की पूरी टीम को बधाई देकर आभार जताया. 

JCERT ने बुक्स में अपलोड किया QR कोड, बच्चे स्कैन करके देख सकेंगे संशोधित सिलेबस

सोमवार को मिलने गए झारखंड हाईकोर्ट जज के साथ विधि विभाग के मुख्य सचिव संजय प्रसाद और झालसा के सदस्य सचिव मो. शाकिर भी मौजूद रहें. असल में भारत कोकिंग कोल लिमिटेड, कोल इंडिया की इकाई ईसीएल, हैवी इंजीनियरिंग कार्पोरेशन लिमिटेड के कर्मियों की सेवा से जुड़े मामले कई दिनों से अटके हुए थे. 

CM ने ली पेयजल और स्वच्छता विभाग की बैठक, कहा- 54 लाख घरों तक कराएं जल उपलब्ध

इनका निपटारा कोविड के कारण वर्चुअली संविधान दिवस 26 नवंबर के मौके पर किया गया था. लोक अदालत में बीसीसीएल, ईसीएल, सीसीएल, एचईसी एवं राज्य के विभिन्न विश्वविद्यालयों के मामले सुने गए थे. बीसीसीएल में सर्विस से जुड़े मामलों की संख्या काफी है, जिसमें पेंशन, ग्रेच्यूटी, मेडिकल आदि हैं. बीसीसीएल के सीएमडी और डीपी ने सभी एरिया को निर्देश दिया था कि जितने भी मामले हैं सभी को एकत्र कर सभी मामलों के निपटान के लिए लोक अदालत में भेजा जाए.

लालू यादव की किडनी की बीमारी स्टेज 4 में पहुंची, आगे और बिगड़ सकती है तबीयत

अन्य खबरें