रांची: टूरिज्म क्षेत्र में 75 हजार लोगों को रोजगार देगी सोरेन सरकार

Smart News Team, Last updated: 03/12/2020 11:46 AM IST
  • झारखंड सरकार राज्य के लोगों को 75 हजार रोजगार देने की तैयारी कर रही है. पर्यटन विभाग ने इसके लिए पर्यटन नीति 2020 के तहत राज्य  टूरिज्म को बढावा देना चाहता है. इसके लिए सरकार लगभग 70 करोड़ रुपया खर्च करेंगा.
सोरेन सरकार टूरिज्म के क्षेत्र में 75 हजार रोजगार देने की योजना बना रहा है.

रांची: झारखंड सरकार राज्य में पर्यटन क्षेत्र को विकसित करने के लिए 75 हजार लोगों को रोजगार देने की तैयारी कर रहा है. प्रदेश सरकार ने राज्य के 130 पर्यटन स्थल को चिंहित किया है. इन स्थानों पर पर्टयको की सुरक्षा, मनोरंजन, विश्राम आदि का इंतजाम किया जाएगा. इस प्रस्ताव के लिए पर्टयन विभाग गुरुवार को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से मुलाकात करेंगा.

राज्य में पर्यटन को टूरिज्म को बढ़ावा देने के साथ-साथ राज्य सरकार 75 हजार लोगों को रोजगार देने के लिए तैयारी कर रही है. पर्यटन विभाग ने पर्यटन नीति 2020 का ड्राफ्ट तैयार किया गया है. झारखंड पर्यटन निदेशक ए. डोडे ने कहा, 'राज्य में पर्यटन को उघोग बनाया जाएगा. राज्य सरकार करीब 75 हजार लोगों को पर्यटन के क्षेत्र में रोजगार देने की कोशिश कर रही है'. इस प्रस्ताव के माध्यम पर्यटन विभाग स्थानीय नागरिको को टूरिस्ट गाइड बनाएगा. सरकार धार्मिक पर्यटन सर्किट और इको टूरिज्म सर्किट के विकास पर 70 करोड़ खर्च करने की योजना बना रहा है.

रांची: आरक्षण में बदलाव के लिए समिति बनाएगी सोरेन सरकार

पूरे राज्य में टूरिज्म के माध्यम से साल भर पर्यटन स्थलों पर सांस्कृतिक कार्यक्रम, नृत्य, लोक कला की प्रस्तुति होगी. साथ-साथ विभिन्न राज्य में झारखंड के पर्यटन स्थलों के बारे में प्रचार किया जाएगा. राज्य सरकार की मदद से पर्यटन विभाग ने सारी तैयारी पूरी कर ली है. झारखंड के धार्मिक स्थल कुलेश्वरी, इटखोरी, रजरप्पा, पारसनाथ के विकास के लिए 20 करोड़ रुपये खर्च किए जाएगें. इसके अलावा दलमा, चांडिल, गेतलसूद, बेतला, मिर्चइया, नेतरहाट के ऊपर लगभग 50 करोड़ रुपये खर्च किया जाएगा.

झारखंड में धान खरीद की शुरुआत, सरकार इस बार किसानों दे रही बोनस

टाटा, HCL समेत कई बड़ी कंपनियां झारखंड के 10 हजार बच्चों को करेंगी ट्रेंड

अन्य खबरें