रांची वासियों को पाइपलाइन से गैस और सीएनजी स्टेशन की सौगात, 60 हजार परिवारों को मिलेगा लाभ

Pallawi Kumari, Last updated: Tue, 14th Sep 2021, 7:41 AM IST
  • रांची के एचईसी कॉलोनी में बन रहे स्मार्ट सिटी में गैस के लिए 3 स्टेशन का निर्माण होगा, जिममें एक सीएनसी और दो पीएनजी स्चेशन का निर्माण किया जाएगा. स्टेशन के निर्माण के बाद रांची के 60 हजार परिवारों के घर गैस सीधे पाइसपाइन से रसोई में पहुंचेगी.
पाइपलाइन से गैस. 

रांची: रांचीवासियों के लिए अच्छी खबर है कि घरेलू गैस के लिए अब उन्हें भारी भरकम सिलेंडर की जगह पाइपलाइन के जरिए सीधे गैसे मिलेगी. जी हां दरअसल एचईसी मेकॉन में जल्द ही लोगों के रसोई में पाइपलाइन से गैस पहुंचाने की सुविधा उपलब्ध कराने वाला है. रांची में तीन सीएनजी स्टेशन की शुरुआत की जा रही है. 3 स्टेशन का निर्माण होगा, जिममें एक सीएनसी और दो पीएनजी स्टेशन का निर्माण किया जाएगा. इसके निर्माण होने के बाद घरेलू गैस सीधे लोगों के रसोईघर में पाइपलाइन के जरिए पहुंचेगा. 

इस सुविधा का लाभ 60 हजार से अधिक परिवारों को मिलेगा. वहीं सीएनजी स्टेशन के जरिए निजी और व्यावसायिक वाहनों को ईंधन मिलेगा. गेल इंडिया रसोई गैस के लिए सीएनजी स्टेशन और पाइप्ड नेचुरल गैस के डोमेस्टिक सप्लाई के लिए दो पीएनजी डिस्ट्रिक्ट रेगुलेटिंग स्टेशन का निर्माण करेगा. इस काम में एक साल का समय लग सकता है. इस दौरान सीएनजी स्टेशन और डिस्ट्रिक रेगुलेचिंग स्टेशन बनाकर तैयार किए जाएगा. इन स्टेशन के तैयार होने के बाद ना सिर्फ स्मार्ट सिटी बल्कि रांची के अलग अलग इलाके धुर्वा, हटिया और एचईसी के लोगों को पाइपलाइन से गैस की सुविधा मिलेगी.

रांची: BOB की सीनियर मैनेजर ने लगाई फांसी, पति पर प्रताड़ना का आरोप, मामला दर्ज

कैसे होगी घरों में गैस की सप्लाई- रांची में लगभग 90 किलोमीटर के दायरे में गैस पाइपलाइन गेल द्वारा बिछायी जाएगी है. इसके लिए मोटी स्टील की पाइपलाइन और एमडीपाई पाइप जैसी दो पाइपलाइन बिछाई जाएगी, जिससे सीधे लोगों के रसोई घर के चूल्हे में गैस पहुंचेगा. एलपीजी गैस के मुकामबले पीएनजी गैस ज्यादा सुरक्षित मानी जाती है. फिलहाल इसका काम चल रहा है , जिसमें एक साल का समय लग सकता है. अब तक 3 हजार से अधिक लोग गैस कनेक्शन के लिए रजिस्ट्रेशन भी करा चुके हैं.

आगरा की ये जगह बनी मिलावटखोरों का गढ़, इस तरह हो रहा लोगों की सेहत से खिलवाड़

अन्य खबरें