झारखंड सरकार का युवाओं को तोहफा, जल्द शुरू होगी 26000 शिक्षकों की भर्ती

Uttam Kumar, Last updated: Mon, 3rd Jan 2022, 11:01 AM IST
  • झारखंड सरकार जल्द ही सरकारी स्कूल में खाली पड़े सभी शिक्षकों के पदों को भरने के लिए 26,000 शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया शुरू करने जा रही है. इसके साथ ही शिक्षा विभाग द्वारा इस साल टेट(TET) परीक्षा आयोजित करने की तैयारी कर रही है.
फाइल फोटो

रांची. नए साल में शिक्षक बनने की चाह रखने वाले युवाओं के लिए अच्छी खबर हैं. रांची सरकार राज्य के सरकारी स्कूलों में शिक्षकों की खाली पदों को भरने के लिए चरणबद्ध तरीके से नियुक्ति करने जा रही है. शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो के अनुसार पहले चरण में 26,000 शिक्षकों की नियुक्ति की जाएगी. जिसमें 13,000 पदों पर सीधी नियुक्ति और13,000 पद पारा शिक्षकों के लिए आरक्षित हैं. वहीं दूसरे चरण में 71 हजार शिक्षकों की नियुक्ति की घोषणा शिक्षा मंत्री ने की है. 

शिक्षा मंत्री के तरफ से जानकारी दी गई कि सभी भर्ती नियमावली के फिर से संशोधन के बाद ही शुरू होगी. नियमावली में भोजपुरी अंगिका और मगही विषय के शामिल होने के बाद नियुक्ति प्रक्रिया शुरू की जाएगी. शिक्षकों की भर्ती के लिए स्कूली शिक्षा व साक्षरता विभाग की तरफ से तैयारी शुरू कर दी गई है. प्राथमिक मिडिल से लेकर हाई स्कूलों में रिक्त शिक्षक का पद जिला स्तर का है और इन सभी पदों पर नियुक्ति जिला स्तर पर होती है.

मरम्मत का इंतजार कर रही झारखंड से बंगाल को जोड़ने वाली सड़क, कभी भी हो सकता हादसा

शिक्षा पात्रता परीक्षा (TET) की आयोजन की तैयारी 

रांची सरकार साल 2022 में शिक्षा पात्रता परीक्षा (TET) भी कराने की योजना बना रही है. 2016 के बाद इस वर्ष पहली बार आयोजित होगी. आपको बताया दे बीएड और डीएलएड पास अभियार्थी बहुत लंबे समय से राज्य सरकार से टेट(TET) परीक्षा आयोजित करवाने की मांग करते आ रहे हैं. इस वर्ष टेट परीक्षा के आयोजन को लेकर विभागीय प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. 

80 स्कूल ऑफ एक्सलेंस शुरू 

शिक्षा विभाग की बड़ी योजना में स्कूल ऑफ एक्सलेंस को नए साल में शुरू करना शामिल है. इसकी प्रक्रिया अंतिम चरण में है. पहले चरण में राज्यभर में 80 स्कूल ऑफ एक्सलेंस की शुरुआत होगी. उम्मीद है कि आगामी शैक्षिक सत्र से स्कूल ऑफ एक्सलेंस में पठन पाठन शुरू हो जाएगा. इसके बाद दूसरे चरणों में सभी प्रखंड में एक स्कूल ऑफ एक्सलेंस शुरू किया जाएगा. इसमें सीबीएसई की तर्ज पर पढ़ाई होगी. 

 

अन्य खबरें