झारखंड एड्स कंट्रोल सोसाइटी से हटाए गए राजीव रंजन, जांच कमेटी बनी

Smart News Team, Last updated: Tue, 16th Feb 2021, 10:17 AM IST
  • झारखंड एड्स कंट्रोल सोसाइटी के निदेशक राजीव रंजन को उनके पद से हटाया गया. स्वास्थ्य विभाग ने जांच समिति का गठन किया. उनपर पद पर रहते हुए अनियमितता का आरोप है.
झारखंड एड्स कंट्रोल सोसाइटी से हटाए गए राजीव रंजन, जांच कमेटी बनी

रांची. भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी राजीव रंजन को झारखंड एड्स कंट्रोल सोसाइटी परियोजना के निदेशक पद से हटा दिया गया. उन्हें इस पद से विवादों में घिरने के बाद हटाया गया है. उनपर एड्स कंट्रोल सोसाइटी में अनियमितता बनाए रखें का आरोप है. साथ ही इसके लिए झारखंड स्वास्थ्य विभाग की तरफ से इसकी जांच के लिए हाई पावर कमेटी का भी गठन किया गया है.

राजीव रंजन को झारखंड एड्स कंट्रोल सोसाइटी के परियोजना निदेशक पद से हटाने के बाद अब योजना सह वित्त विभाग में अपर सचिव के पद पर तैनात किया गया है. राजीव रंजन पर इससे पहले भी कई मामलों में विवादों में रहे है. जानकरी के अनुसार राजीव रंजन को साहेबगंज जिले के उपायुक्त रह चुके है. उस पद से भी उन्हें विवादों में घिरने के बाद हटा दिया गया था.

आपराधिक मामलों में आया नया प्रावधान, फैसला आने तक जमानतदार नहीं बदल सकेंगे मोबाइल नंबर

क्या लगे है आरोप 

राजीव रंजन के ऊपर आरोप लगा है कि उन्होंने ने मनमाने ढंग से नए एनजीओ का चयन किया है. साथ ही इन्होने ने पहले से कार्यरत एनजीओ को हटाया और नए एनजीओ का चयन किया है. राजीव पर यह भी आरोप लगा है कि उन्होंने स्वास्थ्य सचिव की अनुमति के बिना ही दस लाख रुपए खर्च किए है. जबकि प्रावधान है कि इतनी बड़ी राशि को खर्च करने के लिए स्वास्थ्य सचिव से अनुमोदन लेना होता है.

रांची : अब व्हाट्सएप पर बिजली की शिकायत दर्ज करा सकेंगे विद्युत उपभोक्ता

अन्य खबरें