टॉफी-चॉकलेट घोटाले की जांच को तैयार सोरेन सरकार, CM ने विधानसभा में कही ये बात

Priya Gupta, Last updated: Tue, 7th Sep 2021, 1:42 PM IST
  • झारखंड चॉकलेट-टॉफी घोटाले को लेकर सीएम हेमंत सोरेन ने जांच की बात कही है. 
झारखंड चॉकलेट-टॉफी घोटाले पर होगी जांच,

रांची: झारखंड राज्य स्थापना दिवस पर बच्चों में टॉफी और टी-शर्ट वितरित किए गए थे. इसमें घोटाले के आरोप लगे हैं. इस मामले को लेकर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा है कि सरकार चॉकलेट-टॉफी मामले की जांच के लिये तैयार है. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने आज विधानसभा में विधायक सरयू राय के सवालों का जवाब देते हुए ये बात कही है. वहीं सदन की कार्यवाही शुरू होते ही भाजपा विधायक वेल में पहुंच गये. नमाज कक्ष आवंटन के मुद्दे पर जोरदार हंगामा किया.

मालूम हो कि विधायक सरयू राय ने आरोप लगाया था झारखंड स्थापना दिवस पर चॉकलेट और टॉफी के नाम पर बड़ी राशि की हेराफेरी हुई थी. सरयू राय ने कहा कि एक में दिन पांच करोड़ रु चॉकलेट और टी शर्ट बांट दिये गये. उन्होने कहा कि ये बंटवारा कागज पर हुए थे. जल्दी-जल्दी में कैबिनेट की मंजूरी ले ली गई थी. नौ हजार स्‍कूलों के बच्‍चों को न चॉकलेट मिला न टी शर्ट.

रांची विधानसभा भवन में 'नमाज कक्ष' पर विरोध तेज, मंदिर बनाने की मांग पर BJP ने लगाए जय श्रीराम और हर हर महादेव के नारे

यह कार्यक्रम पूर्वी मुख्यमंत्री रघुवर दास के कार्यकाल में हुआ था. हालांकि, सरयू राय ने इससे पहले भी इस मामले को सदन में उठाया था, अब सीएम हेमंत ने जांच की बात की कही है. जून में इस मामले में झारखंड हाईकोर्ट में सुनवाई की थी. रघुबर दास की सरकार में स्थापना दिवस के मौके पर बच्चों के बीच टी-शर्ट और टॉफी बांटी गई थी. उसमें करोड़ों रुपए के अनियमितता की बातें सामने आईं. उसकी जांच की मांग को लेकर याचिकाकर्ता ने हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर की थी.

अन्य खबरें