अवैध हथियार लेकर चलने वाले अपराधियों को तुरंत मार गिराएं: DGP एमवी राव

Smart News Team, Last updated: 01/11/2020 09:25 AM IST
  • झारखंड में बढ़ते अपराध के मामलों के बीच डीजीपी एमवी राव ने पुलिस कर्मियों को निर्देश दिया है कि अगर अपराधी गैर कानूनी हथियार लेकर चल रहा है तो उसे तुरंत मार गिराएं. डीजीपी ने घाघरा में भाई-बहन हत्याकांड के मामले से जुड़े घटनास्थल का मुआयना किया और परिजनों से मुलाकात की.
झारखंड डीजीपी एमवी राव

रांची: झारखंड पुलिस के डीजीपी एमवी राव ने शनिवार को राज्य में बढ़ते अपराध की घटनाओं पर बड़ा बयान दिया. डीजीपी ने कहा कि हथियार लेकर चलने वाले अपराधियों को मार गिराने में पुलिसकर्मी तनिक भी संकोच न करें. साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि अपराधियों को मार गिराने वाले पुलिस कर्मियों को प्रोटेक्शन दिया जाएगा.

जानकारी के मुताबिक गुमला सर्किट हाउस में मीडिया से बात करते हुए डीजीपी ने घाघरा में रांची सेंट जेवियर्स की छात्रा ममता खाखा और उसके भाई संजीव रंजन की हत्या को जघन्य और क्रूरतम अपराध बताया. इस दौरान डीजीपी घाघरा में घटनास्थल का मुआयना करने के बाद लौटे थे. डीजीपी ने कहा कि इस घटना को साधारण अपराध की श्रेणी में नही रख सकते हैं. बता दें कि इस घटना को नजदीक से जानने के इरादे से ही डीजीपी वहां पहुंचे हैं साथ ही पीडि़त परिजनों से मुलाकात भी की.

रांची के कस्तूरबा और आवासीय स्कूलों में नामांकन पर उपायुक्त ने मांगी रिपोर्ट

इसके साथ ही मामले में सख्ती दिखाते हुए डीजीपी ने कहा कि दोहरे हत्याकांड में किसी भी तरह की ढिलाई बरतनेवाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी. दोषियों को किसी भी हाल में बख्शा नहीं जाएगा. डीजीपी ने कहा कि भाई-बहन हत्याकांड में शामिल अपराधियों के खिलाफ स्पेशल कोर्ट में ट्रायल होगा ताकि उन्हें जल्द से जल्द सजा मिल सके. उन्होंने बताया कि इस वारदात में शामिल आरोपी ड्रग एडिक्ट हैं.

रांचीः झारखंड सरकार की अनुमति मिली फिर भी नहीं खुलेंगे बार, जानिए वजह

झारखंड में ड्रग्स के कारण अपराध के मामलों में आती तेजी के कारण डीजीपी एमवी राव ने बताया कि झारखंड पुलिस पूरे राज्य में ड्रग्स के खिलाफ दो सप्ताह अभियान चलाएगी. उन्होंने इस अभियान का नाम पुलिस अगेंस्ट ड्रग्स दिया. उन्होंने बताया कि अभियान के दौरान नशे के अवैध कारोबार से जुडे़ लोगों के खिलाफ पुलिस कार्रवाई करेगी. 

 

अन्य खबरें