झारखंड में खूनी अंधविश्वास, डायन के वश में बताकर 5 लोगों की बेरहमी से हत्या

Smart News Team, Last updated: 03/03/2021 04:07 PM IST
  • झारखंड के एक आदिवासी इलाके में लगातार पशुओं के मरने पर गांव के पुजारी ने कुछ लोगों के डायन के वश में होने की बात कही. जिसके बाद गांव के एक परिवार के 5 लोगों की कुल्हाड़ी से हत्या कर दी गई. मरने वालों में पांच साल का एक बच्चा भी शामिल है.
झारखंड के एक गांव के अंधविश्वास के चलते पांच लोगों की हत्या कर दी गई.

राँची. झारखंड के एक आदिवासी इलाके से एक ऐसी घटना सामने आई है जिसमें डायन के शक के चलते पांच साल के बच्चे समेत पांच लोगों की हत्या कर दी गई है. इस मामले में अरेस्ट किए आरोपी ने इस बारे में बताया कि सिर्फ तीन मिनट के भीतर इस घटना को अंजाम दिया है. इस मामले गांव के लोगों ने कुछ भी बताने से इंकार कर दिया है.

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, बीते 4 महीने में झारखंड के बुरुहातू-अमतोली पहाड़ में डायन के अंधविश्वास के चलते 8 लोगों की हत्या हो चुकी है. मिली जानकारी के अनुसार, इलाके में लगतार पशुओं की मौत हो रही थी. पशुओं की मौत की कोई वजह नहीं मिली तो इलाके के पुजारी और वैद्य ने बुरी शक्तियां होने की बात कहीं. 

रांची में जमीन विवाद के चलते दो पक्षों में मारपीट, थाने में शिकायत दर्ज

जिसके बाद इसको लेकर 23 फरवरी को ग्राम सभा की मीटिंग हुई. गांव के पुजारी मथुरा टोपनो ने कुछ लोगों के डायन के वश में होने की बात कही. जिसके बाद अगली सुबह गांव के जोसफिना टोपनो ने 55 साल की महिला उसके कच्चे घर के बाहर पड़ा देखा. वो घर के अंदर गया तो महिला के पति निकोदिम का शव भी मिला. इसके अलावा बगल वाले कमरे में बेटे विन्सेंट, बहू सिलवंती और 5 साल के पोते अलबिन का शव पड़ा हुआ था.

सिम चोरी और गायब होने की शिकायत के बाद उसी से बदमाश कर रहे क्राइम, जानें मामला

कहा जा रहा है कि के पुजारी मथुरा टोपनो के डायन के वश में होने के नाम बताए जाने के बाद 10-12 घंटे के भीतर पांच लोगों की कुल्हाड़ी से हत्या कर दी गई है. इस घटना के बार में गांव के लोगों ने कुछ भी बोलने से मना कर दिया है. हालांकि गांव के कुछ लोगों ने कहा कि गांव में काले जादू का साया है या फिर उनके देवी-देवता नाराज हो गए हैं.

 

अन्य खबरें