झारखंड सरकार में शामिल कांग्रेस राज्य सरकार से 27% OBC आरक्षण मांगने सड़क पर उतरी

Prachi Tandon, Last updated: Tue, 21st Sep 2021, 11:42 PM IST
  • झारखंड कांग्रेस ने मंगलवार को रांची राजभवन के बाहर विरोध-प्रदर्शन किया. हेमंत सोरेन सरकार में शामिल कांग्रेस 27 फीसदी आरक्षण की मांग को लेकर सड़क पर उतरी थी. फिलहाल राज्य में ओबीसी वर्ग को 14 फीसदी आरक्षण मिलता है.
झारखंड में 14 फीसदी से 27 फीसदी ओबीसी आरक्षण बढ़ाने की मांग को लेकर कांग्रेस ने रांची राजभवन के बाहर प्रदर्शन किया.

रांची. झारखंड की सोरेन सरकार में शामिल कांग्रेस 27 फीसदी ओबीसी आरक्षण को लेकर मंगलवार को सड़क पर उतर गई. झारखंड कांग्रेस ने राज्य स्तर पर धरना प्रदर्शन किया. कांग्रेस के नेताओं ने रांची के राजभवन के सामने धरना दिया. नेताओं ने कहा कि ओबीसी वर्ग को 27 फीसदी आरक्षण दिलाना उनकी प्राथमिकता है. इसी के साथ कांग्रेस नेताओं ने जमकर भाजपा पर भी निशाना साधा. ओबीसी प्रकोष्ठ के अध्यक्ष ने मंगलवार को प्रदर्शन के दौरान कहा कि बीजेपी की लंबे समय तक झारखंड में सरकार रही पर उन्हें सिर्फ चुनाव के समय ही ओबीसी वर्ग की याद आती है.

झारखंड कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि इस प्रदर्शन से भाजपा को तकलीफ हो रही है जो स्वभाविक है. राजेश ठाकुर ने कहा कि कांग्रेस ने जनतंत्र को इतना मजबूत बनाया है कि एक चाय बेचने वाला व्यक्ति आज प्रधानमंत्री है. इसी के साथ कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि बीजेपी को पता होना चाहिए कि कांग्रेस ने सिर्फ देश की आजादी की लड़ाई नहीं लड़ी है बल्कि संविधान बनाने और विभिन्न वर्गों को आरक्षण देने का काम किया है.

राजेश ठाकुर ने इसी के साथ कि ओबीसी को 27 फीसदी आरक्षण दिलाने के इस मुद्दे को हर स्तर पर उठाते रहेंगे. कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि ओबीसी को 27 फीसदी आरक्षण देने का चुनावी वादा किया गया था जिसके लिए हम प्रतिबद्ध हैं और आरक्षण के मामले को इसी कार्यकाल में पूरा करेंगे. 

अब 24 सितंबर से खुलेंगे झारखंड में 6ठी से 8वीं तक के स्कूल, नई कोरोना गाइडलाइन जारी

वहीं भाजपा ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि इस धरने-प्रदर्शन का आयोजन करके सत्ता में बैठी कांग्रेस झारखंड के लोगों को मूर्ख बनाने की कोशिश कर रही है. भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने कहा कि वह किसके खिलाफ विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं. वह सरकार में हैं और वह एक कलम के झटके से फैसला कर सकते हैं.

झारखंड के स्वास्थय मंत्री और सोरेन कैबिनेट में कांग्रेस के ओबीसी चेहरे बन्ना गुप्ता ने कहा भाजपा को ओबीसी रिजर्वेशन मामले पर कांग्रेस को लेक्चर नहीं देना चाहिए. बन्ना गुप्ता ने इसी के साथ कहा कि अगर भाजपा को ओबीसी वर्ग की चिंता है तो क्यों नहीं प्रधानमंत्री पूरे देश में बढ़ा हुआ आरक्षण घोषित कर देते.  

JPSC: सातवीं संयुक्त सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा आंसर की जारी, यहां देखें पूरी डिटेल्स

बन्ना गुप्ता ने इसी के साथ भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि क्यों बीजेपी जातीय जनगणना का विरोध कर रही है. बन्ना गुप्ता ने कहा कि भाजपा ने रघुबर दास को पांच साल तक झारखंड मुख्यमंत्री का पद दिया था तो इस मामले पर कुछ क्यों नहीं किया गया. 

अन्य खबरें