झारखंड : सरकारी स्कूलो में टीचर समेत विभिन्न पदों पर जल्द होगी भर्ती , जानें सीट

Mithilesh Kumar Patel, Last updated: Sat, 11th Dec 2021, 2:02 PM IST
  • झारखंड में जल्द ही टीचर समेत कई सह कर्मी पदों पर तैनाती के लिए बंपर भर्ती होने वाली है. शनिवार को राज्य के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो ने इसकी जानकारी दी है. इस भर्ती प्रकिया के जरिए बड़ी संख्या में टीचरों की प्राथमिक से लेकर 12वीं तक के विद्यालयों में नियुक्ति दी जाएगी.
प्रतीकात्मक फोटो

रांची. झारखंड में जल्द ही शिक्षक समेत कई पदों पर तैनाती के लिए बंपर भर्ती होने वाली है. लिए क्रिया जल्द शुरू होगी. इसकी जानकारी शनिवार को हेमंत सोरेन सरकार में शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो अपने आवास पर प्रेस वार्ता के दौरान दी है. इस मौके पर उन्होंने कहा है कि सूबे में प्राथमिक विद्यालयों से लेकर 12वीं तक के विद्यालयों में 1 लाख से अधिक टीचरों की नियुक्तियां की जायेगी. इसके साथ ही शिक्षा मंत्री महतो ने कहा है कि राज्य सरकार द्वारा शासित विद्यालयों में टीचर के आलावा अन्य सहकर्मियों की भी तैनाती की जायेगी.

झारखंड शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो शनिवार को अपने आवास पर आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान ने कहा है कि फिलहाल इन भर्तियों के माध्यम से योग्य अभ्यर्थियों को संविदा कर्मी (कांट्रैक्ट या एडहॉक) कर्मी के तौर पर रखा जाएगा. इस दौरान उन्होंने कहा है कि राज्य के सभी जिला मुख्यालय, प्रखंड मुख्यालय से लेकर पंचायत स्तर तक एक-एक अंग्रेजी मीडियम का स्कूल खोला जायेगा. आगे उन्होंने से भी बताया कि पहले चरण में अंग्रेजी मीडियम स्कूल के लिए 80 विद्यालय का चयन किया जा चुका है और इसे शुरू करने की तैयारियां तेजी से चल रही है.

अब राज्य का धान बाहर नहीं जाएगा, लगेंगी 14 राइस मिल: हेमंत सोरेन

पहले चरण में चिन्हित 80 विद्यालयों में अंग्रेजी मीडियम के टीचर की भर्तियां की जायेगी. मौजूदा समय में सरकारी विद्यालयों में तैनात वैसे टीचर जो पहले CBSE स्कूलों में पढ़ा रहे थे, उन्हें इन 80 अंग्रेजी मीडियम के स्कूलों  में प्रति-नियुक्त किया जायेगा. इस दौरान उन्होंने पारा शिक्षकों को लेकर कहा कि उनकी समस्याओं के समाधान को लेकर झारखंड सरकार गंभीर है. और उस पर पारा शिक्षक संघ के प्रतिनिधियों के साथ बैठक कर नियमावली को फाइनल किया जायेगा. 

लोकसभा में BJP MP निशिकांत ने उठाई झारखंड में राष्ट्रपति शासन की मांग, ये है वजह

गौरतलब है कि नियमावली को लेकर शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा के प्रतिनिधियों के साथ मीटिंग कर बात करेंगे. इससे पहले इस नियमावली पर शिक्षा मंत्री के साथ पारा शिक्षक मोर्चा के प्रतिनिधियों से एक बार बात हो चुकी है. जिसमें बिहार की नियमावली को सूबे के पारा शिक्षकों पर लागू करने की सहमति बनी थी. इस सरकार के 29 दिसंबर को 2 साल पूरा अटकलें लगाई जा रही है कि इस मौके पर सरकार नियमावली लागू कर पारा शिक्षकों के मानदेय में भी बढ़ोत्तरी की घोषणा कर सकती है.

अन्य खबरें